डबरा। नईदुनिया प्रतिनिधि

शहर थाना क्षेत्र के ग्राम अरुसी में शुक्रवार को नवविवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के मामले में मायके पक्ष के लोग शनिवार को थाने पहुंचे और पति सहित ससुरालपक्ष के लोगों के खिलाफ हत्या करने का मामला दर्ज करने की मांग की। मृतका के मायके पक्ष की शिकायत पर पुलिस ने पति सहित पांच लोगों के खिलाफ 304बी, 34 भादंवि व 3/4 दहेज एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच में लिया है।

उल्लेखनीय है कि शहर थाना क्षेत्र के ग्राम अरुसी में शुक्रवार को आरती (19) पत्नी जितेन्द्र रावत ने अपने कमरे में फांसी का फंदा बनाकर बनाकर आत्महत्या कर ली। पत्नी को फांसी के फंदे पर झूलता देखकर पति ने परिजनों तथा ससुराल पक्ष के लोगों को सूचित किया। बेटी की मौत की खबर मिलने के बाद परिजन थाने पहुंचे और ससुराल पक्ष के लोगों पर बेटी की हत्या करने का आरोप लगाया और सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराने की मांग की। रविवार को मृतका का पीएम होने के बाद मृतका के परिजन तथा गांव के लोग थाने पहुंचे और हत्यारों के खिलाफ मामला दर्ज करने की मांग करने लगे। मृतका के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने पति जितेन्द्र रावत सहित सुल्तान रावत, शोभा रावत, विद्याबाई तथा माखन के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में लिया। मृतका के पिता गोपाल सिंह कहना है कि उसकी बेटी की शादी मार्च 2019 में हुई थी और उन्होंने बेटी की शादी में मांग के अनुसार दहेज दिया था। चार माह पहले ससुराल पक्ष के लोगों दहेज लाने की मांग करने लगे और आरती को प्रताड़ित करने लगे। जब मैं उन्हें और दहेज नहीं दे सका, तो उन्होंने मेरी बेटी को मार दिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network