बनवार। आज सावन का आखरी सोमवार है और इसके साथ ही रक्षाबंधन का पर्व है। यह त्योहार भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक माना जाता है। इसके अलावा आज श्रावण पूर्णिमा भी है जिसके कारण राखी का महत्व और भी अधिक बढ़ जाता है। इस साल कोरोना महामारी के चलते तीसरे व चौथे सोमवार को जागेश्वरधाम के कपाट बंद थे। श्रद्धालुओं को भगवान जागेश्वरनाथ के दर्शन नहीं हुए। मंदिर के गेट से ही श्रद्धालु दर्शन कर वापस लौट गए, लेकि न आज आखरी सावन सोमवार को मंदिर के कपाट खुले रहने की सूचना मिलते ही भक्त उत्साहित हैं। क्योंकि सावन मास में भगवान शिव की पूजा का विशेष महत्व है।

मंदिर ट्रस्ट के प्रबंधक रामकृपाल पाठक का कहना है कि सावन के आखरी सोमवार पूर्णिमा को देव श्रीजागेश्वरनाथ के कपाट बंद रहने की देर शाम तक कोई जिला प्रशासन से कोई सूचना नही मिली। इसलिए पूरी संभावना है कि आखरी सोमवार को दर्शनार्थियों के लिए देव श्रीजागेश्वरनाथ के कपाट खुले रहेंगे और शासन की गाइड लाइन के तहत शारीरिक दूरी का पालन कर श्रद्धालु दर्शन करेंगे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan