दमोह (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले में अभी तक बर्ड फ्लू का एक भी मामला सामने नहीं आया है, लेकिन लगातार हो रही पक्षियों की मौत से लोग दहशत में हैं। तीन दिन पूर्व ही जिला प्रशासन ने इस बात की पुष्टि की है कि जिले में एक भी पॉजिटिव के स सामने नहीं आया। जितने भी पक्षियों की मौत हुई उनके शव का सैंपल जांच के लिए भिजवाया गया जो निगेटिव निकला है, लेकि न पक्षियों की मौत का क्रम रुकने का नाम नहीं ले रहा। शुक्रवार की सुबह घंटाघर के पास हनुमान गढ़ी मंदिर के सामने अचानक से दो कबूतरों के शव मिलने से स्थानीय दुकानदार दहशत में आ गए। जिसकी सूचना पशु चिकि त्सा विभाग को दी गई। जिले में आधा सैकड़ा पक्षियों की मौत का आंकड़ा पुश चिकि त्सा विभाग के द्वारा दिया गया है।

शुक्रवार की सुबह हनुमानगढ़ी मंदिर के सामने एक दुकानदार की दुकान के सामने दो कबूतर मृत हालत में मिले। एक कबूतर के शव को तो कु त्ता ले गया, लेकि न दूसरे शव वहीं पड़ा रहा। जिसकी सूचना पशु चिकि त्सा विभाग को दी गई। कबूतर का शव देखने लोगों की भीड़ लग गई क्योंकि इस समय प्रदेश के कई जिलों में बर्ड फ्लू फै ल चुका है जिसमें पक्षियों की मौत हो रही है। इसलिए जब भी कि सी पक्षी की मौत होती है लोग उसके शव को देखने जरुर जाते हैं।

सभी ब्लाकों में हो रही पक्षियों की मौत

भले ही जिले में बर्ड फ्लू का एक भी के स सामने नहीं आया, लेकि न इसके बाद भी पक्षियों की मौत अज्ञात कारणों के चलते हो रही है। जिससे लोग दहशत में हैं। जिले के प्रत्येक ब्लाक में पक्षी मृत हो रहे हैं। बुधवार को ही पथरिया ब्लाक में एक साथ 14 कबूतरों की मौत हुई थी जिससे लोग दहशत में आ गए थे। इसके दो दिन पहले तेंदूखेड़ा में तीन पक्षियों की मौत हुई थी। इसके अलावा बटियागढ़, हटा, जबेरा ब्लाक में भी पक्षी मर रहे हैं। हालांकि कु छ लोगों का यह भी कहना है कि यदि जिले में बर्ड फ्लू का एक भी मामला नहीं है तो हो सकता है कि पक्षी फसलों में होने वाले कीटों को खाते हों इसलिए उनकी मौत हो रही हो क्योंकि फसलों पर कीटनाशक का छिड़काव कि या जाता है और फसल में लगने वाले कीड़े इस कीटनाशक का सेवन पौधों के माध्यम से कर लेते हों। इसके बाद जब पक्षी इन कीड़ों को खाते हों इसलिए उनकी मौत हो जाती हो।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags