कु म्हारी (नईदुनिया न्यूज)। सरकार के द्वारा 24 घंटे बिजली देने की बात कही जाती है, लेकि न यह दावा खोखला साबित हो रहा है। क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों में बेतहाशा बिजली कटौती की जा रही है। जिससे ग्रामीणों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पटेरा बिजली कें द्र अंतर्गत आने वाले कु म्हारी गांव के बिजली उपभोक्ता पिछले छह माह से अघोषित बिजली कटौती से परेशान हो रहे हैं। आलम यह है कि दिनभर इलाके की बिजली गुल रहती है जिससे लोगों को रोजमर्‌रा का काम निपटाने में भी परेशानी हो रही है और बिजली से चलने वाले व्यापार भी चौपट हो रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जब भी कटौती की शिकायत के लिए अफसरों को फोन लगाते हैं तो वे मोबाइल स्विच ऑफ कर लेते हैं या कवरेज के बाहर होते हैं। जिससे उनकी शिकायत भी दर्ज नहीं हो पाती। बिजली कब आएगी और कब चली जाएगी यह कोई नहीं बता सकता। ग्रामीणों का कहना है कि बिजली कटौती के कारण लोगों के घरों का गेहूं भी नहीं पिस पाता, इसके अलावा साइबर कै फे , फोटो कॉपी मशीन बंद रहती हैं इलेक्ट्रॉनिक व्यवसाय चौपट हो गया है। पंचायत के कार्य भी समय पर नहीं हो पा रहे हैं।

ग्रामीणों का आरोप है कि भीषण कटौती के बीच बिजली कंपनी द्वारा मनमाने बिल दिए जा रहे हैं जिससे उनके घरों का बजट बिगड़ रहा है। सुधार के लिए लगातार कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं, लेकि न समस्या का समाधान नहीं कि या जा रहा है। बिजली कंपनी द्वारा कु म्हारी के आसपास के गांव में मीटर नहीं लगाए उसके बाद भी मनमाने तरीके से बिजली बिल दिए जा रहे हैं।

पटेरा के कनिष्ठ यंत्री मोहम्मद फरीद का कहना है कि जिला मुख्यालय से बिजली कटौती की जा रही है वह इसमें क्या कर सकते हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local