दमोह नईदुनिया प्रतिनिधि। शहर में दिनों दिन चार पहिया वाहनों की संख्या बढ़ती जा रही है जिनमें से अधिकांश वाहन टूर एंड ट्रेवल में संचालित होते हैं लेकिन ऐसे वाहनों के खड़े होने के लिए कोई उचित स्थान नहीं है। जिससे वाहन संचालकों के द्वारा शहर में अवैध रूप से सड़क किनारे तीन स्थानों पर वाहन खड़ा करना शुरू कर दिया है। यह वे स्थान हैं जहां सुबह से लेकर शाम तक काफी यातायात रहता है और इन वाहनों के खड़ा होने से वहां का यातायात बाधित होता है। सड़क के दोनों ओर वाहन खड़े हो जाते हैं जिससे बाइक से चलना तो दूर की बात पैदल निकलना भी मुश्किल होता है। वहीं यातायात पुलिस और नगर पालिका द्वारा इस ओर कोई कार्रवाई नहीं की जाती और नहीं कोई उचित स्थान चिन्हित किया जा रहा है।

पैदल चलना भी होता है मुश्किल :

शहर के बैंक चौराहा, कीर्ति स्तंभ और बस स्टैंड चौराहे के पास गायत्री गेट के समीप इन चार पहिया वाहन चालकों द्वारा अवैध रूप से दर्जनों की संख्या में वाहनों को खड़ा किया जाता है। यहीं से इनका पूरा कारोबार चलता है रात और सुबह के समय यहां की सड़क काफी चौंड़ी दिखाई देती है लेकिन जैंसे-जैसे यहां वाहनों का आना शुरू होता है तो पैदल चलना भी मुश्किल भरा हो जाता है और आए दिन सड़क हादसे भी होते हैं। सबसे ज्यादा परेशानी गायत्री गेट के समीप और बैंक चौराहे के पास होती है। दरअसल गायत्री गेट के समीप सड़क से सटकर वाहनों के खड़ा होने से यहां अन्य वाहनों का निकलना भी मुश्किल हो जाता है। इसी मार्ग से यात्री बसों का आना-जाना लगा रहता है। यहां वाहनों के खड़े होने से बस चालकों को भी परेशानी होती है और आए दिन सड़क हादसे भी होते हैं।

दूसरे बैंक चौराहे के पास सड़क के दोनों ओर इसी तरह चार पहिया वाहन खड़े रहते हैं। इस मार्ग से स्कूल, कालेज जाने वाले छात्रों को निकलना पड़ता है और इसी मार्ग पर जिला न्यायालय व अन्य सरकारी कार्यालय हैं जिनके कर्मचारी भी यहीं से निकलते हैं। जिन्हे सड़क पर वाहन खड़े होने से परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी दौरान यदि बेसहारा मवेशी भी इसी सड़क पर निकल जाएं तो परेशानी और बढ़ जाती है। कुछ इसी तरह का नजारा शुक्रवार की दोपहर देखने मिला। जब कुछ बेसहारा भैंसे यहां से निकल रहीं थीं और सामने से वाहन आ रहे थे जिससे यहां से गुजरने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local