दमोह (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शनिवार की रात एक नाबालिग स्कूली छात्रा के अपहरण की घटना सामने आई जिससे पूरे जिले की पुलिस हरकत में आ गई। रात को नाबालिग को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने अपने बांदकपुर से बाबाओं के द्वारा अपने अपहरण होने की बात स्वजनों और पुलिस को बताई गई। बच्ची का इलाज जिला अस्तपाल में चलता रहा उधर देहात थाना पुलिस मामले की पर्तें खोलती रही जिसमें यह बात सामने आई कि छात्रा ने अपरहण की झूठी कहानी रची है। वह अपनी बुआ के घर रहकर पढ़ाई करना नहीं चाहती और बांदकपुर स्कूल में भी नहीं पढ़ना चाहती थी। अपहरण का ये मामला बांदकपुर से जुड़ा था, इसलिए बांदकपुर चौकी पुलिस भी सक्रिय हुई और छात्रा ने बांसा तारखेड़ा के समीप से अपहरण मुक्त होने की बात की थी, इसलिए देहात थाना पुलिस भी इस मामले में सक्रिय हो गई। दोनों क्षेत्र की पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई की और कड़ियों को जोड़कर इस मामले का खुलासा कर दिया।

जिला अस्पताल में इलाजरत 13 वर्षीय नाबालिग ने पुलिस को बताया था कि वह बर्धारी गांव में रहती है और बांदकपुर में अपनी बुआ के घर रहकर पढ़ाई करती है। शनिवार सुबह वह बम्होरी स्कूल में पढ़ाई करने गई थी इसी दौरान करीब 10 बजे कुछ बाबा सफेद कलर की कार से उसके पास आए और उसका मुंह बंद कर उसे कार में बैठा लिया। देहात थाना अंतर्गत आने वाले बांसा तारखेड़ा और पिपरिया गांव के बीच किसी का फोन बाबा के पास आया और वह बात करने लगे तभी वह किसी तरह कार से निकलकर भाग निकली और राहगीरों को पूरी घटना बताई और वह लोग उसे बर्धारी उसके घर लेकर पहुंचे।

जहां स्वजनों को पूरी जानकारी देने के बाद वे उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले कर आए। नाबालिग ने यह भी बताया कि जिस गाड़ी में उसे ले जाया जा रहा था उसमें दो, तीन बच्चे बेहोशी की हालत में पढ़े थे। मामले की जानकारी एएसपी शिव कुमार सिंह को लगी तो उन्होंने तत्काल देहात थाना टीआई श्याम बैन और अन्य पुलिस अधिकारियों को मामले की जांच करने रात को ही जिला अस्पताल भेजा। छात्रा द्वारा बताया गया यह पूरा घटनाक्रम पुलिस को भी नाटकीय समझ में आ रहा था।

देहात थाना टीआई ने छात्रा की एक सहेली से घटना के संबंध में पूछा तो उसने बताया कि सब कुछ झूठ है छात्रा अपनी बुआ के घर रहना नहीं चाहती और जब पुलिस ने उस छात्रा से सही बात बताने के लिए कहा तो उसने भी यही बात बताई। जिसके बाद देहात थाना टीआई ने इस पूरे घटनाक्रम का खुलासा किया और घटना को फर्जी बताया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस