दमोह (नईदुनिया प्रतिनिधि)। प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के पिता के निधन पर शोक संवेदनाएं व्यक्त करने प्रदेश के पंचायत राज्य मंत्री रामखेलावन पटेल सोमवार रात दमोह पहुंचे। इसके बाद उन्होंने शहर के अपने कुछ परिचितों के घर जाकर भी मुलाकात की। इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि बसपा से पथरिया विधायक रामबाई भाजपा में आकर चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर कर रही है तो, क्या पार्टी उन्हें मौका देगी। इस पर मंत्री ने कहा कि आज की स्थिति में तो भाजपा में हर कोई आना चाहता है और चुनाव लड़ना चाहता है, लेकिन पार्टी समय-समय पर जरूरत के हिसाब से फैसले करती है। यह शीर्ष नेतृत्व तय करता है कि कौन चुनाव लड़ेगा कौन नहीं। रामबाई चुनाव लड़ेंगी या नही ये पार्टी तय करेगी, रामबाई के कहने से कुछ नहीं होता।

इसके पहले उनसे पूछा गया कि कांग्रेसी भाजपा पर आरोप लगा रहे है कि भाजपा ने विधायकों को खरीदा है, इस पर मंत्री ने कहा कि भाजपा कभी खरीद फरोख्त नहीं करती। कांग्रेस के आरोप निराधार है और बीते उपचुनाव में जनता ने भी उन्हें इसका ठीक से जवाब दे दिया है। राहुल सिंह के भाजपा में आने के बाद अब दमोह चुनाव की टिकट जयंत मलैया यह राहुल सिंह में से किसको मिलेगा। इस पर उन्होंने कहा कि दोनों में से टिकट किसे मिलेगा यह पार्टी का शीर्ष नेतृत्व तय करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि राहुल सिंह को शीर्ष नेतृत्व भाजपा में लेकर आया है और वह उन्हें किन शर्तों पर लाया है और उनकी क्या मांगे हैं यह तो वही बता पाएंगे, इसमें वह कुछ भी नहीं कहना चाहते। इसके अलावा राज्य मंत्री श्री पटेल ने अपने विभाग से जुड़े मामलों में घुमक्कड़ और ओबीसी से जुड़े सभी वर्गों के लिए बेहतर कार्य योजना तैयार करने की बात कही है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि 75 से 80% घुमक्कड़ जातियों के मामले ठीक हो गए हैं, लेकिन जो रह गए हैं उनके लिए अब सर्वे कराया जा रहा है ताकि घुमक्कड़ जातियों को जाति प्रमाण पत्र और वन अधिकार जैसे मामलों में लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि सर्वे के बाद जब लिस्टिंग हो जाएगी तो केंद्र सरकार के साथ समन्वय बनाकर उन बाकी बचे लोगों को भी योजनाओं का लाभ दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

कौन जीत सकता है चुनाव, हो रहा सर्वे

दमोह विधानसभा उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी को लेकर पैंच फसा हुआ है। कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए पूर्व विधायक राहुल सिंह और पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया के बीच भाजपा उपचुनाव की टिकट को लेकर खींचतान चल रही है। ऐसा माना जा रहा है कि राहुल सिंह के भाजपा आने पर उनसे पार्टी से कमिटमेंट किया है कि उपचुनाव में उन्हें ही भाजपा से टिकट दी जाएगी, लेकिन स्पष्ट कुछ नहीं है। वहीं दूसरी तरफ श्री मलैया भी अपनी ताकत दिखा रहे हैं। इसलिए पार्टी इस बात को लेकर संशय में है कि आखिर टिकट किसे दिया जाए और शायद इसलिए दमोह में प्रत्याशी को लेकर सर्वे कराया जा रहा है। जानकारी मिली है कि एक एजेंसी द्वारा शहर में सर्वे किया जा रहा है और इसके बाद एक दूसरी एजेंसी सर्वे करेगी और संभवतः फिर भाजपा अपने स्तर पर भी सर्वे कराएगी कि भाजपा से राहुल या श्री मलैया में से कौन प्रत्याशी चुनाव जीत सकता है। हालांकि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह से लेकर कई मंत्री दमोह आए, लेकिन किसी ने भी खुलकर ये नहीं कहा कि दमोह से प्रत्याशी कौन होगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस