दमोह। नईदुनिया प्रतिनिधि। MP News पूर्व केंद्रीय मंत्री और लगातार कमलनाथ सरकार को निशाने पर ले रहे वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की कट्टर समर्थकों में शामिल मध्य प्रदेश की महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी मीडिया के एक सवाल से इतनी गुस्से में आ गईं कि उन्होंने मीडियाकर्मियों के माइक को अपने हाथ से हटाते हुए ये कह दिया कि चलो, हटाओ माइक।

यह था मंत्री इमरती देवी के क्रोधित होने का कारण

गुस्से के पीछे का कारण ज्योतिरादित्य को प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ से बाहर होने का एक सवाल था। मंत्री इमरती देवी अल्प प्रवास पर रविवार शाम दमोह पहुंची थीं।

बोली इमरती देवी : ये कहां-कहां की बातें पूछ रहे हो, ये तो पुरानी बातें हो गईं

मीडिया ने जब उनसे पूछा कि सुनने में आ रहा है कि कांग्रेस प्रदेश में किसी आदिवासी चेहरे को अध्यक्ष रूप में लाना चाह रही है। इस पर वे गुस्साईं और कहा ये कहां-कहां की बातें पूछ रहे हो, ये तो पुरानी बातें हो गईं, कोई अच्छी बात पूछो।

माइक हटाते हुए कहा, बस माइक हटा लो

फिर से सवाल पूछने पर उन्होंने तीखे अंदाज में कहा कि सिंधिया क्यों नहीं चलेंगे, दिग्विजय क्यों नहीं चलेंगे, कमलनाथ क्यों नहीं चलेंगे, क्या ये अलग हैं। प्रदेश के सारे नेता एक हैं। फिर गुस्से में उन्होंने यह कहते हुए माइक हटाते हुए कहा, बस माइक हटा लो।

उल्‍लेखनीय है कि इमरती देवी एकाधिक मौकों पर अपने बयानों से चर्चा में रहती हैं। सिंधिया के सड़क पर उतरने के बयान के बाद उनका यह बयान भी सामने आया है कि यदि सिंधिया सड़क पर उतरेंगे तो पूरे देश की कांग्रेस सड़क पर उनके साथ होगी।

Posted By: Hemant Upadhyay