तेंदूखेड़ा(नईदुनिया न्यूज)। वन विभाग भले ही अवैध कटाई रोकने के लाख दावे कर ले लेकिन वनकर्मियों की मिली भगत से इस पर रोक नहीं लग पाती वहीं विभाग के वरिष्ट अधिकारियों को पूरी जानकारी होने के बाद भी उनके द्वारा जांच का बहाना बनाकर इन मामलों को दबा दिया जाता है जिससे कर्मचारियों के हौसले बुलंद हैं। अवैध कटाई का ताजा मामला शनिवार सुबह तारादेही मार्ग पर देखने मिला जहां मुख्य मार्ग पर दर्जनों सागौन के पेड़ कट गये और वनकर्मियो को भनक तक नहीं लगी हालांकि भनक न लगना ही उनकी मूक सहमति बता रहा है। सुबह जब राहगीरों को हरे भरे पेड़ कटे दिखे तो उन्होंने वनकर्मियों की जगह मीडिया को सूचना दी मीडिया कर्मियों ने मौके पर पहुंचकर देखा तो सागौन के पेड़ मौके पर कटे पड़े हुये थे और कुछ मोटाई बाले पेड़ वनमाफ़िया उठाकर ले गये।

धनगोर वीट का है मामला : शुक्रवार की रात्रि जिस जगह पर कटाई हुई है वह तेंदूखेड़ा वन परिक्षेत्र की वीट धनगोर है और ये कटाई मुख्य मार्ग से लगभग 30 फीट अंदर हुई है मौके पर ठूंठ और कटे पेड़ दिन में भी डले हैं। जानकारों ने बताया कि कटाई शायद रात्रि में हुई हैं कटे पेड़ों की मोटाई वाली लकड़ी तस्कर ले गये और जो छोटी और पतली लकड़ी थी वह मौके पर छोड़ गये जो सुबह भी पड़ी रही। जंगलों में लगे पेड़ों की रखवाली करने के लिये वनकर्मी हैं लेकिन ये भी दिन में एक चक्कर लगाकर घर वापस हो जाते हैं और अधिक समय कार्यालय या घर में ही बिताते हैं उसी का नतीजा हैं कि आज जंगलों में मुख्य मार्गो पर हरे भरे पेड़ काटे जा रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close