Datia Administration Action News: दतिया.नईदुनिया प्रतिनिधि। दतिया के सेवढ़ा ब्लॉक के इंदरगढ़ तहसील के एक पटवारी को खसरा खतौनी में सुधार करने के लिए एक किसान ने रिश्वत दी थी। रिश्वत की राशि लेने के बावजूद उसने किसान के किसान के खसरा-ख्रतौनी का काम नहीं किया। जूब इस बात की शिकायत संबंधित किसान ने कलेक्टर संजय कुमार को की थी, मामले की जांच की गई और कलेक्टर ने खुद उस पयवारी से बात की तो रिश्वत के मामले की पुष्टि होने पर कलेक्टर ने उस पटवारी को निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया है।

जानकारी के अनुसार जन सुनवाई के दौरान सेवढ़ा ब्लॉक के तहसील इंदरगढ़ में पटवारी प्रदीप सिहारे ने मोहना जाट गांव के एक किसान से उसके खसरे और खतौनी में कुछ सुधार के लिए 70 हजार रुपए की मांग की थी। बाद में किसान से उसने 18 हजार रुपए की रिश्वत ले ली। रिश्वत लेने के बाद भी उसके खेत संबंधी कागजों में सुधार का काम भी नहीं किया था। जब कलेक्टर को इस बात का पता जन सुनवाई के दौरान चला तो उन्होंने खुद पटवारी से बात की। इसके साथ एसएलआर शुभम मिश्रा से मामले की जांच करवाई। जांच के दौरान रिश्वत लेने की बात की पुष्टि हो गई कि उक्त पटवारी ने रिश्वत ली है। इसे लेकर कलेक्टर ने तत्काल पटवारी प्रदीप सिहारे को निलंबित कर दिया। इसके साथ ही उसके विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local