फोटो 11 घेराव को हटाती पुलिस।

दतिया। सोमवार की सुबह कुछ किसानों ने एसपी बंगले का घेराव किया। किसानों का कहना था कि गोराघाट पुलिस द्वारा फसलों के ले जाने पर एंट्री फीस के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है। पुलिस इस घटना को दो पक्षों के बीच विवाद बता रही है।

बताया जा रहा है कि खैरोना घाट ग्राम से उड़द की फसल बेचने डबरा जा रहे किसानों का गोराघाट पुलिस से एंट्रीफीस देने की बात को लेकर विवाद हो गया। किसानों का आरोप है कि फीस न देने पर पुलिस ने अन्य लोगों से किसानों की मारपीट करवाई। इसमें दीनदयाल साहू, सुनील साहू, और दीपक साहू नामक किसान घायल हो गए। इस बात की शिकायत और न्याय की मांग करने किसान जब एसपी डी कल्याण चक्रवर्ती के बंगले पर पहुंचे। इस बात की सूचना जब पुलिस को लगी तो मौके पर पहुंची पुलिस ने किसानों को जाम लगाने से रोका और कोतवाली थाने ले आए। कोतवाली में भी किसान गोराघाट पुलिस द्वारा अवैध वसूली की बात को ही दोहराते रहे। दोषी पुलिस कर्मियों पर भी कार्रवाई की मांग करते रहे। फिलहाल घटना में घायल हुए किसानों को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेज दिया गया है। उक्त मामले को लेकर जब कोतवाली टीआई योगेंद्र दांगी से बात करने के लिए उनके मोबाइल नंबर 7049160351 पर संपर्क करने का प्रयास किया गया तो फोन पर रिंग तो बजी लेकिन फोन नहीं उठाया गया।

दोनों पक्षों में पहले भी हो चुका है विवाद

उक्त मामले को लेकर गोराघाट थाना प्रभारी गिरीश शर्मा ने बताया कि सोमवार की सुबह लगभग 7 से 8 बजे की बीच ही सुनील साहू और कल्ली रावत के बीच विवाद हो गया था। साहू का कहना था कि कल्ली रावत हमसे गाड़ी निकालने पर पैसा मांग रहा था। वहीं कल्ली रावत का कहना था कि साहू द्वारा उन्हें वाहन से टक्कर मार दी है। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में मारपीट कर दी गई। दोनों ही पक्ष थाने नहीं आए हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network