सेवढ़ा-बसई। नईदुनिया न्यूज

आज मकर संक्रांति पर्व पर गुरुवार को सनकुआं में विशेष पर्व स्नान होंगे। इस दौरान नगर सहित आसपास से हजारों की संख्या में लोग सेवढ़ा पहुंचेंगे। पर्व स्नान उपरांत दानपुण्य की परम्परा का भी निर्वहन किया जाएगा। इसके अलावा बुंदेलखंड अंचल के प्रसि़द्ध धार्मिक स्थल रतनगढ़ माता मंदिर पर भी पूजा अनुष्ठान होगा। परम्परा अनुसार इस वर्ष भी वाली बाबा द्वारा डेढ़ क्वंटल गजक का प्रसाद भी लगवाया जाएगा।

सेवढ़ा में स्थित सनकुआं पर पर्व स्नान का विशेष महत्व है। इसी क्रम में मकर संक्राति पर प्रतिवर्ष हजारों की संख्या में लोग सेवढ़ा आते हैं। गुरूवार को सुबह से ही सनकुआं पर श्रद्धालुजन पहुंचेंगे। यहां मेले का स्वरूप स्थापित हो जाएगा। संक्रांति मेले को देखते हुए पुलिस आपदा प्रबंधन टीम तथा नगर परिषद् सेवढ़ा द्वारा व्यवस्थाएं की गई है। पर्व स्नान के अलावा ब्राहम्मणों को दानपुण्य करने एवं तिल गुड़ का प्रसाद वितरण करने की परम्परा का भी निर्वहन यहां किया जाएगा।

रतनगढ़ पर लगेगा डेढ़ क्विंटल गजक का प्रसाद

रतनगढ़ माता मंदिर पर मकर संक्रांति के अवसर पर गजक के प्रसाद का वितरण होता है। मंदिर के साधक बाली बाबा द्वारा हर वर्ष यह आयोजन किया जाता है। मंदिर के पुजारी पं. राजेश कटारे ने बताया कि इस वर्ष भी माता का भव्य श्रृंगार एवं आकर्षक झांकी लगाई जाएगी। इसी दौरान बाली बाबा द्वारा डेढ़ क्विंटल गजक का प्रसाद लगवाकर उसे श्रद्धालुओं के बीच वितरित किया जाएगा।

उनाव बालाजी धाम में लगेगा मेला

वहीं उनाव बालाजी धाम में मकर संक्रांति स्नान पर्व पर लगने वाले मेले को लेकर एसडीएम चौहान ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। मेला ड्यूटी को लेकर सभी विभागों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं । इस पर्व पर स्थानीय के अलावा आसपास के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों श्रद्धालु काफी संख्या में यहां स्नान के लिए पहुंचते हैं। उन्होंने कहा कि बस स्टैंड से मंदिर की तरफ जाने वाले मार्ग में किसी भी वाहन को विशेष परिस्थितियों को छोड़कर जाने की अनुमति न दी जाए। नदी कैंपस में महिलाओं के लिए चेंजिंग रूम की व्यवस्था की गई है।

बसई में बेतवा पर उमड़ेगी श्रद्धालुओं की भीड़

बसई क्षेत्र से 2 किमी दूरी पर वेतवा नदी पर स्थित भैरारेश्वर धाम चौमखानाथ पर मकरसंक्राति 14 ओर 15 जनवरी को भव्य मेला लगेगा । साथ ही हजारों की संख्या में श्रद्धालु पर्व स्नान के लिए उमडेंगे। बसई क्षेत्र के अलावा ललितपुर, झांसी, जालौन, टीकमगढ़ सहित पिछोर आदि क्षेत्र से करीब 20 से 25 हजार श्रद्धालु आने की संभावना जताई गई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस