दतिया/चिरुला (नईदुनिया प्रतिनिधि)। चिरुला थाना क्षेत्र में एक नवविवाहिता की बुधवार को अज्ञात कारणों के चलते मौत हो गई थी। जिसका पीएम पुलिस ने जिला अस्पताल में कराया था। इस घटना को लेकर मृतका के मायके पक्ष का आरोप है कि उनकी बेटी के पति व ससुराल के लोगों ने दहेज को लेकर उसकी जान ली है। गुरुवार सुबह मृतका के स्वजन उसका शव एंबुलेंस में लेकर चिरुला थाने पहुंच गए।

जहां उन्होंने थाने का घेराव कर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। मृतका के मायके पक्ष के लोगों की मांग थी कि ससुराल पक्ष पर पुलिस मामला दर्ज करे। पुलिस ने आक्रोशित लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन वह नहीं माने। इसके बाद एसडीओपी प्रियंका मिश्रा मौके पर पहुंची जहां उन्होंने मृतका के स्वजन को आश्वस्त किया कि मामले की निष्पक्ष जांच होगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस आश्वासन के बाद स्वजन मानें। थाने पर काफी देर तक हंगामा चलता रहा।

शव छोड़कर भागने का आरोप

मृतका के स्वजन का आरोप था कि उसकी ससुराल पक्ष के लोग जिला अस्पताल में शिवानी का शव छोड़कर भाग गए। बताया जाता है कि गांव बगेधरीसानी निवासी 22 वर्षीय शिवानी यादव की शादी एक वर्ष पूर्व 26 अप्रैल 2021 को गांव करारी खुर्द के पंकज यादव के साथ हुई थी। मृतका शिवानी की मां नीतू यादव का कहना कि मौत से पहले बेटी से फोन पर उनकी बात भी हुई थी। बात करते समय बेटी बहुत परेशान लग रही थी। आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोग दहेज के लिए शिवानी को प्रताड़ित करते थे। मृतका की मां के मुताबिक उसने शिवनी को समझाया था कहा कि घबराएं नहीं वह ससुराल पक्ष से बात करेंगे। मृतका शिवानी की मां का कहना है कि फोन पर बात होने के कुछ ही घंटों बाद दामाद पंकज का फोन आया कि शिवानी ने फांसी लगा ली। वह उसे झांसी मेडिकल लेकर जा रहे हैं। इस खबर के बाद मृतका के मायके पक्ष के लोग झांसी पहुंचे। वहां उन्हें कोई नहीं मिला। जब उन्होंने पंकज को फोन कर दोबारा पूछा तो उसने जवाब दिया कि हम तो शिवानी को लेकर दतिया जिला अस्पताल आ गए हैं। जब वो लोग जिला अस्पताल पहुंचे तो वहां सिर्फ शिवानी का शव पड़ा था। जबकि ससुराल पक्ष के लोग गायब थे। इस मामले में मृतका स्वजन ने शिवानी के पति पंकज, गीता, भारती, अंजली पर मारपीट और हत्या करने के आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करने की मांग की है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close