दतिया । नईदुनिया प्रतिनिधि।

पूर्व प्रधानमंत्री पं.जवाहरलाल नेहरू की 58वीं पुण्यतिथि शुक्रवार को जिला कांग्रेस कार्यालय पर मनाई गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता कांग्रेस जिलाध्यक्ष अशोक दांगी बगदा ने की। जिसमें पूर्व विधायक राजेंद्र भारती, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष दामोदर यादव, जिला अध्यक्ष दांगी मौजूद रहे। सर्वप्रथम पं.नेहरू के चित्र पर पुष्प अर्पित कर कांग्रेसजन ने श्रद्धांजलि दी।

प्रदेश उपाध्यक्ष दामोदर यादव ने कहा कि पं.नेहरू एक साहसी स्वतंत्रता सेनानी एवं कांग्रेस अध्यक्ष भी रहे। उनकी पंचशील गुट निरपेक्ष नीति से उन्हें वैश्विक नेता के रुप में पहचान मिली। पूर्व विधायक भारती ने कहा कि एक दूरदर्शी राजनेता व राष्ट्र भक्त पंडित नेहरु भारत माता के सच्चे सपूत थे। कार्यक्रम में सरनाम सिंह राजपूत, रामनारायण पटैरिया, जिला उपाध्यक्ष नारायण सिंह बाबूजी, पातीराम पाल फौजी, अनिल राज श्रीवास्तव, जिला मीडिया प्रभारी अशोक श्रीवास्तव, जिला महामंत्री सौरभ राजपूत सहित कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित रहे। शहर कांग्रेस कमेटी ने भी पूर्व प्रधानमंत्री नेहररू की पुण्यतिथि मनाई। शहर कांग्रेस कार्यालय किला परिसर दतिया पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ कांग्रेस नेता शिवकुमार पाठक ने की। इस अवसर पर शहर अध्यक्ष दीपेंद्र पुरोहित ने पं.जवाहरलाल नेहररूᆬ के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। सभा में वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुरुदेव शरण गुप्ता, जीतेंद्र पठारी, शंभु गोस्वामी, अतुल यादव सहित राजकुमार अहिरवार, बलवीर सिंह कुशवाहा, मनोज सेन, सत्यम शरण गुप्ता, राजु गुर्जर, ऋषभ राजा गुर्जर, अभिषेक यादव, सुभाष अहिरवार, अमित कुमार यादव उपस्थित रहे।

युगदृष्टा थे पंडित नेहरूः उनाव ब्लाक कांग्रेस द्वारा भी पं.नेहरु की पुण्यतिथि मनाई गई। इस मौके पर पूर्व ब्लाक अध्यक्ष डा.टीके धर ने अपने संबोधन में कहाकि भारत के पहले प्रधानमंत्री रहे पंडित जवाहरलाल नेहरु का जन्म 14 नवंबर 1889 इलाहाबाद में हुआ था। अपनी स्कूली शिक्षा हैरो और कालेज की शिक्षा ट्रिनिटी कालेज लंदन से उन्होंने पूरी की थी। पंडित नेहररू शुरू से ही गांधी जी से प्रभावित रहे और 1912 में कांग्रेस से जुड़े। आादी की लड़ाई में हिस्सा लेते हुए उन्होंने अपने जीवनकाल में कुल 9 बार जेल यात्राएं कीं। आजादी के बाद 1947 में भारत के प्रधानमंत्री बने और 27 मई 1964 तक इस पद पर बने रहे। पं.जवाहरलाल नेहरू ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक नई पहचान भारत को दिलाई। बच्चे भी उन्हें प्रेम करते हुए चाचा कहकर बुलाते थे। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मुन्नाालाल शर्मा (कक्का), जगदीश दांगी, जिला कांग्रेस कमेटी सचिव लाल खान, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिनेश शर्मा, जिला सचिव सेवादल अवधेश दोहरे, जिला सचिव युवा कांग्रेस आशीष सेन, मनोहरलाल उनया आदि कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी अपने विचार व्यक्त किया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close