दतिया । नईदुनिया प्रतिनिधि।

रविवार 26 जून को अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस के अवसर पर नशा मुक्ति के जागरुकता संबंधी आयोजन किए गए। सामाजिक न्याय विभाग कलापथक दल एवं अन्य अधिकारी कर्मचारियों द्वारा नशा मुक्त भारत नशा मुक्ति दतिया अभियान के तहत स्टेडियम ग्राउंड दतिया में उपस्थित खिलाड़ियों एवं स्टाफ को नशे से होने वाले दुष्परिणामों से अवगत कराया गया। इस दौरान शपथ रैली एवं खेल प्रतियोगिताओं के माध्यम से नशे के दुष्परिणाम के बारे में बताया गया। इस मौके पर छात्र-छात्राओं, खिलाड़ियों एवं आमजन से संकल्प पत्र शपथ पत्र भरवा कर नशामुक्ति की शपथ दिलवाई गई। जागरुकत संबंधी पंपलेट का वितरण किया गया।

मास्टर ट्रेनर द्वारा खिलाड़ियों को बताया कि नशा अच्छे काम का करो पढ़ाई का, खेल का। लेकिन मादक पदार्थों का नशा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। सामाजिक न्याय के मास्टर ट्रेनर विनोद मिश्रा एवं नरेंद्र दुबे द्वारा खिलाड़ियों को विभिन्ना प्रकार के नशे से होने वाले वाली बीमारियों के बारे में अवगत कराया गया। उन्होंने कहाकि खिलाड़ी नशे से दूर रहकर ही अपना कैरियर उज्जवल बना सकते हैं। स्टेडियम पर लगभग एक सैकड़ा खिलाड़ियों के साथ-साथ खेल विभाग के स्टाफ ने नशा न करने की शपथ ली और रैली निकालकर नशे के प्रति जागरूक किया। इस अवसर पर संजय भार्गव, मुरारी नागरची, सामाजिक न्याय विभाग का स्टाफ उपस्थित रहा।

महिला थाना पुलिस ने भी किया आयोजन

अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस के उपलक्ष में महिला थाना दतिया द्वारा नशामुक्ति पखबाडे? के तहत समाज में नशामुक्ति, साइबर अपराध, महिला सुरक्षा पर जागरुकता लाने के उद्देश्य से संगोष्ठी आयोजित की गई। कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं, बच्चों एवं युवाओं को मुख्य अतिथि महिला थाना प्रभारी नेहा शर्मा ने नशे के दुष्परिणामों के बारे व्यापक जानकारी देते हुए बताया कि नशा परिवार की उन्नाति को रोक देता है और व्यक्ति की सामाजिक आर्थिक एवं राजनीतिक छवि को भी खराब कर देता है। हमें नशे से दूर रहना चाहिए।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे रामजीशरण राय द्वारा बच्चों के अधिकारों के साथ ही महिला अधिकारों पर व्यापक जानकारी देते हुए घरेलू हिंसा अधिनियम, दहेज प्रतिषेध, अधिनियम और बाल विवाह अधिनियम के दुष्परिणाम बताते हुए जानकारी दी गई। साथ ही नशा को रोकने की अपील की। कार्यक्रम का संचालन अशोक शाक्य द्वारा किया गया। आभार आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ममता शाक्य ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में रानी शाक्य, विद्या शाक्य, अर्चना यादव, विमला कुशवाहा, विद्या पाल, ज्योति पाल, काजल प्रजापति, मोनिका साहू, आदि उपस्थित रहे। उपस्थित प्रतिभागियों को महिला सुरक्षा, सायबर अपराध, नशा मुक्ति पखवाडा के अंतर्गत नशा से होने वाले नुकसान आदि के संबध में जागरुक करने व उनके द्वारा पूछे गए सवालों के उत्तर देकर समाधान किया गया। आयोजन में महिला थाना प्रभारी निरीक्षक नेहा शर्मा, उनि अर्चना पाल, अमरजीत परसैया, प्रियंका भदौरिया व जसपाल की भूमिका रही।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close