दतिया । नईदुनिया प्रतिनिधि।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा ग्राम गोविंदपुर में अनुसूचित जनजाति सप्ताह अंतर्गत विधिक जागरुकता एवं साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में जिला न्यायाधीश ऋतुराज सिंह चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि शासन द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्रत्येक व्यक्ति को मिलना चाहिए। अनुसूचित जाति वर्ग के व्यक्तियों के लिए शासन द्वारा विशेष योजनाएं बनाई गई हैं। जिसकी जानकारी उन्हें होनी चाहिए। अनुसूचित जाति के व्यक्ति के साथ यदि कोई मारपीट करता है तो उसके लिए भी अलग अधिनियम बनाए गए हैं। लेकिन हमें अपने अधिकारों के बारे में जानकारी होना जरूरी है। जिससे हम सही माध्यम को पहचान कर अपने या अपने ग्राम के लोगों की मदद कर सकें।

उन्होंने कहाकि निशुल्क विधिक सहायता का लाभ प्रत्येक व्यक्ति को मिलना चाहिए। अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के व्यक्तियों के लिए कोई भी आय सीमा नहीं है। वह निशुल्क विधिक सहायता पाने के हकदार हैं। शिविर में जिला जज दतिया मुकेश रावत ने जानकारी देते हुए बताया कि आगामी 13 अगस्त को नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिला एवं तहसील न्यायालय में किया जाएगा। यदि किसी भी व्यक्ति का प्रकरण न्यायालय में चल रहा है और आपसी समझौते के आधार पर यदि राजीनामा करना चाहता हो तो 13 अगस्त को लगने वाली नेशनल लोक अदालत में उपस्थित हो और हमेशा के लिए मामले से छुटकारा पाएं। उक्त विधिक साक्षरता शिविर में स्कूल के प्राचार्य सत्येंद्र दिसोरिया (पीएलव्ही) सहित ग्रामीण उपस्थित रहे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close