दतिया। नईदुनिया प्रतिनिधि

धार्मिक और औषधीय महत्व रखने वाले तुलसी के पौधे को आकर्षक ढंग से सजाने की अनूठी प्रतियोगिता का शहर में आयोजन किया गया। जिसमें महिलाओं ने पूरे उत्साह से बढ़-चढ़कर भाग लिया। यह सारा आयोजन आनलाइन वैश्य महासम्मेलन दतिया की महिला इकाई द्वारा किया गया था।

वैश्य महासम्मेलन के प्रदेश अध्यक्ष उमाशंकर गुप्ता के जन्मदिन पर दतिया महिला इकाई की जिला अध्यक्ष सुनीता ग?ंधी द्वारा तुलसी जी सजाओ ऑनलाइन प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें शहर भर की वैश्य महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। महिलाओं ने अपनी कला का प्रदर्शन करते हुए आकर्षक ढंग से तुलसी के पौधे को सजाया गया। पौधे को रंग बिरंग परिधान से सजाकर उसे देवी प्रतिमा का रूप दिया गया।

इस प्रतियोगिता के आयोजन के बारे में महिला इकाई अध्यक्ष सुनीता गंधी ने बताया कि तुलसी का पौधा हमेशा ही अपने अमृतमयी गुणों के कारण पूजनीय रहा है। कोरोना काल में तुलसी का काढ़ा बहुत उपयोगी रहा है। जिसके इस्तेमाल को आयुर्वेद चिकित्सकों ने भी काफी गुणकारी माना था। तुलसी का पौधा अपने आसपास के वातावरण को कीटाणु मुक्त करने में सक्षम होता है वहीं इसके पत्ते, मंजरी, छाल सभी काफी उपयोगी हैं। हिंदू शास्त्रों में तुलसी को माता की उपमा दी गई है। इस सबको देखते हुए तुलसी सजाओ प्रतियोगिता का आयोजन करने का निर्णय लिया गया।

इस प्रतियोगिता में प्रथम स्थान सविता सेठ को मिला। जबकि द्वितीय स्थान राधिका रुसिया रही। इस प्रतियोगिता में कांति नगरिया, रंजना भटनागर, रिता मित्तल, अभिलाषा लोहिया, गर्विता गुप्ता, सावित्री बिलैया, सुषमा श्रीवास्तव, माधुरी रूसिया, रेनू खर्द, रेनू गंधी व अन्य महिलाओं ने उत्साह से भाग लिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags