दतिया। पीतांबरा पीठ पर नवरात्रि के आखिरी दिन भक्तों की लंबी कतारे लग गईंं। अल सुबह 5 बजे से ही दर्शनार्थियों का आना शुरू हो गया। नवमी और दशहरा एक साथ होने के कारण बड़ी संख्या में श्रद्धालु उत्तर प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र यहां पहुंचे। नवमी और दशमी उदित तिथि के कारण एक ही दिन होने से यह संयोग बना। पीतांबरा माता के साथ ही धूमावती मां के दर्शन के लिए भी बड़ी संख्या में लोग प्रातः कालीन आरती का इंतजार करते नजर आए। रविवार को उदित तिथि होने के कारण 11 बजकर 52 मिनट तक नवमी तिथि रहेगी। इस कारण भी श्रद्धालु का पीतांबरा पीठ आने का ताता सुबह से ही शुरू हो गया।

रतनगढ़ माता मंदिर पर भी श्रद्धालुओं की भीड़

दतिया जिला मुख्यालय से 65 कि.मी. दूर रतनगढ़ माता मंदिर पर भी श्रद्धालुओं का नवरात्रि के अंतिम दिन भारी जमावड़ा रहा। रतनगढ़ मंदिर के महंत पंडित राजेश कटारे ने बताया कि शारदीय नवरात्रि का दोपहर 12 बजे तक नवमी का दिन है। अतः श्रद्धालु यहां पर रात्रि 3 बजे से ही आना शुरू हो गए थे। सुबह आरती के साथ मंदिर के पट खोले गए। प्रातः 8 बजे तक लगभग 12 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने रतनगढ़ माता मंदिर के दर्शन कर लिए थे। News Updating...

Posted By: Prashant Pandey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस