अजय तिवारी, दतिया नईदुनिया। पारिवारिक कारणों की वजह से तनाव के चलते एक रिटायर्ड फौजी ने लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मारकर जान दे दी। घटना पंडोखर थाना क्षेत्र के ग्राम सालौन बी में सोमवार की रात घटित हुई। सूचना मिलने पर पंडोखर थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक का खून से लथपथ शव बरामद कर उसे पीएम के लिए पहुंचाया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घटना के बारे में पंडोखर थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुशवाह ने बताया किग्राम सालौन बी निवासी 55 वर्षीय रिटायर्ड फौजी रामप्रसाद वाल्मीकिपुत्र मंगल ®सह सोमवार रात घर में अकेला था। उसके स्वजन बेटी का इलाज कराने झांसी गए थे। इसी दौरान रामप्रसाद ने 12 बोर की लाइसेंसी बंदूक की नाल ठो़ड़ी के नीचे रखकर फायर कर दिया। गोली उसके सिर के पार निकल गई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बताया जाता है किपारिवारिक विवाद के चलते मृतक काफी दिनों से तनाव में था। गतदिवस जब घर में कोई नहीं था, तभी उसने यह आत्मघाती कदम उठा लिया।

घर पर फोन न उठने पर स्वजन को हुई ®चता

बताया जाता है किमृतक के बेटे ने झांसी से फोन लगाकर जब पिता रामप्रसाद से बात करना चाही तो फोन रिसीव नहीं हुआ। काफी देर तक फोन रिसीव न होने पर उसने मृतक के दोस्त राम®सह वाल्मीकिको फोन लगाया और पिता से बात कराने को कहा। राम®सह ने फौजी के घर पहुंचकर दस्तक दी तो दरवाजा नहीं खुला। इसके बाद पड़ोस की छत पर चढ़कर जब वह मकान के अंदर घुसा तो गैलरी पास बने कमरे में फौजी का क्षत-विक्षत शव पड़ा था। इस बात की खबर तत्काल मृतक के बेटे को दी गई। साथ ही पुलिस को भी सूचित किया गया। मृतक फौजी झांसी का निवासी था, जो विगत 15 वर्षों से सालौनबी में निवास करने लगा था। वह यहां रहकर कृषि कार्य करता था। बताया जाता है किस्वजनों के दूर रहने से भी अक्सर तनाव में रहता था। उसके परिवार में पत्नी, दो बेटे और तीन बेटियां हैं।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local