देवास। संस्था श्री एकलव्य ने मां शबरी का जन्मोत्सव मनाया। संस्था द्वारा भील भिलाला आदिवासी समाज के तत्वावधान में चल समारोह निकाला गया। चल समारोह जवाहर चौक से प्रारंभ होकर शहर के मुख्य मार्गों से होकर जवाहर चौक पर खत्म हुआ। समारोह में राम लक्ष्‌मण व शबरी की झांकी आकर्षण का केंद्र रही। इस अवसर पर संस्थापक कालूसिंह मडोदिया, अध्यक्ष तुफानसिंह यादव, उपाध्यक्ष शुभम यादव, अर्जुन बरला, राजेश कटारा, संदीप ठाकुर, हिम्मत सिंह बछानिया, गुड्डू मसाले वाला, अनिल बरला, लाखन कटारा, निरंजन रेटवा सहित समस्त कार्यकर्ता व समाजजन उपस्थित थे।

कृष्ण जन्मोत्सव में पवार ने व्यास पीठ की पूजा कर लिया आशीर्वाद

देवस। मोती बंगला माताजी प्रांगण में चल रही श्रीमद भागवत कथा के चौथे दिन कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। व्यास पीठ से आचार्य पंडित अनिल शर्मा ने भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव का प्रसंग सुनाया। कथा के दौरान विक्रमसिंह पवार ने व्यास पीठ की पूजा अर्चना कर आचार्य शर्मा का अभिनंदन कर आशीर्वाद लिया। कथा के चौथे दिन आचार्य शर्मा ने कहा कि वैराग्य की भावना हर किसी के मन में नहीं उठती। उसके लिए मन को तपाना पड़ता है। इस अवसर पर अंसार भाई धर्मेंद्रसिंह बैस, परमानंद द्विवेदी, मांगीलाल तपासे, दिनेश आदि उपस्थित थे।

सम्मान समारोह के साथ वसंत उत्सव का समापन

देवास। स्थानीय विक्रम सभा में चल रही प्रदर्शनी 22 फरवरी को समापन हुआ। इस दौरान अन्य सांस्कृतिक आयोजन व लोक गीत संगीत के आयोजन हुए। वरिष्ठ कलाकार हुसैन शेख, दीपा इन्दापुरकर का सम्मान किया गया। समाज सेवक शंकर भोले की पत्नी का सम्मन उनके पुत्र पवन विजयवर्गीय को दिया गया। कार्यक्रम में शब्बीर भाई देवास वाले की शहनाई वादन, प्रसिद्ध गायक कैलाश खेर के गीतों पर प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर निगम आयुक्त विशालसिंह ने कहा कि सभी कलाकार वादा करें कि यह वसंत उत्सव आप प्रतिवर्ष इसी तरह मनाएंगे। समापन कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला जज योगेशचंद्र गुप्ता थे। साथ ही एडीजे कंचन सक्सेना उपस्थित रहे। विशेष अतिथि निगम आयुक्त विशालसिंह चौहान थे। अध्यक्षता जीवनसिंह ठाकुर ने की। आभार मनीष शर्मा ने माना।

महाशिवरात्रि पर्व निकलेगी बाइक कलश यात्रा

देवास। जय भोले बाइक कलश यात्रा समिति की बैठक हुई। जिसमें निर्णय लिया गया कि यात्रा महाशिवरात्रि पर क्षिप्रा उद्गम स्थल ग्राम उज्जैनी से ज्योतिलिंग महादेव कैलादेवी मंदिर तक निकाली जाएगी। मीडिया प्रभारी कमल सिंह चौहान व कपिल यादव ने बताया कि इस बार यात्रा के रूट में परिवर्तन किया गया है। समस्त कलश यात्री महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या 10 मार्च को ग्राम पीवड़ाय में खाती समाज धर्मशाला में रात्रि विश्राम करेंगे। जहां कवि सम्मेलन भी होगा। 11 मार्च महाशिवरात्रि को संगम कुंड से मां नर्मदा क्षिप्रा का जल भरकर सुबह 8 बजे पूजा आरती के बाद रवाना होंगे। जो कंपेल, डबलचौकी, सन्नाौड़, महूडिय़ा, कैलोद, टिगरिया गोगा से क्षिप्रा होकर शाम 4 बजे देवास पहुंचेगी। नगर भ्रमण के बाद 6 बजे यात्रा की पूर्णाहूति होगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता आस्था मंच के अध्यक्ष लीलाधर देथलिया ने की। मुख्य अतिथि अखिल विश्व गायत्री परिवार के जिला समन्वयक रमेशचंद्र मोदी थे। संचालन प्रदीप मेहता ने किया। बैठक में सुमेर सिंह जाधव, मधुसूदन शर्मा, राजभंवर सिंह सेंधव, मांगीलाल चौधरी, चंद्रशेखर चौहान आदि उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags