देवास (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर से लेकर ग्रामीण अंचल तक कोरोना के रोजाना नए मामले सामने आ रहे है। बीते कुछ दिनों से तो एक भी दिन ऐसा नहीं गया होगा जब मरीज नहीं निकले हो। वहीं स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जो आंकड़े दिए जा रहे हैं, वो बहुत ही चौंकाने वाले है। मार्च माह से शुरू हुए कोरोनाकाल से लेकर 11 अगस्त यानी बीते नौ माह की बात करें तो कोरोना से 499 लोग संक्रमित हुए थे और कोरोना के कारण 13 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद यानी अगस्त से लेकर दिसंबर तक बीते तीन माह सितंबर,अक्टूबर और नवंबर में तीन गुना से अधिक की दर से संक्रमित मरीज बढ़े हैं। साथ ही मौत का आंकड़ा भी दोगुना है। बीते तीन माह में 13 लोगों की मौत कोरोना से हो गई जबकि 2375 कुल कोरोना संक्रमित हो गए।

इस तरह तीन माह में 1876 नए मरीज बढ़े हैं। ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्या स्वास्थ्य विभाग ने लापरवाही बरती। नौ माह में कोरोना कंट्रोल में रहा और तीन माह में कई गुना अधिक मरीज सामने आ गए, हालांकि अधिकारी इससे इनकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि विभाग की तरफ से कोई लापरवाही नहीं बरती गई है। वहीं अब अमलतास अस्पताल से शासन को जो अनुबंध था वो समाप्त हो चुका है ऐसे में नए संक्रमित मरीजों को होम आइसोलेशन में ही रखा जा रहा है। पहले उन्हें देवास में ही बेहतर उपचार मिल जाता था। अब गंभीर होने की स्थिति में मरीज को उज्जैन स्थित आरडीगार्डी अस्पताल रैफर कर दिया जाता है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एमपी शर्मा ने बताया कि दो दिसंबर को प्राप्त 156 सैंपल की रिपोर्ट में से 148 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है तथा आठ सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। साथ ही 25 कोरोना पॉजिटिव मरीज स्वस्थ हुए है। जिले में अब तक 67 हजार 639 सैंपल लिए गए, जिनमें अब तक लैब से 67 हजार 554 सैंपलों की रिपोर्ट प्राप्त हुई। आज दिनांक तक 64 हजार 309 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव प्राप्त हुई है। जिले में अभी तक कुल 2375 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव हुए तथा अभी तक 2236 कोरोना संक्रमित मरीज उपचार उपरांत करोना संक्रमण से मुक्त हुए है। आज दिनांक तक जिले में एक्टिव कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 113 है। जिले में अब तक का कोविड 19 रिकवरी रेट 94.15 प्रतिशत है तथा मृत्युदर 1.9 प्रतिशत है।

तीन हजार से अधिक ग्रामीणों के बनाए चालान

विकासखंड बागली, देवास, कन्नाौद, खातेगांव, सोनकच्छ तथा टोंकखुर्द ग्राम पंचायतों में बगैर मास्क के घूमने वाले ग्रामीणों पर चालानी कार्रवाई की गई। ग्रामीण क्षेत्र में तीन हजार 66 ग्रामीणों के चालान मास्क नहीं पहनने पर बनाए गए तथा 31 हजार 593 रुपये की चालानी कार्रवाई की गईं।

तीन माह में 13 मौत और मरीज बढ़ने के मामले में विभाग की लापरवाही जैसी कोई बात नहीं है। कई बार रिपोर्ट बाद में मिलती है। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा समुचित व्यवस्था कोरोना की रोकथाम के लिए की गई है। जिला अस्पताल में पांच वेंटीलेटर है, 60 ऑक्सीजन और 10 आईसीयू बेड की व्यवस्था है। लोग सावधानी रखें। - डॉ.एमपी शर्मा, सीएमएचओ देवास

शाला परिसर में लगाया पोस्टर

शासकीय माध्यमिक विद्यालय महाकाल कॉलोनी के प्रधान अध्यापक महेश सोनी ने बताया कोरोना से बचाव के लिए सावधानी रखनी जरूरी है। फिलहाल तो मास्क ही वैक्सीन है। इसी कारण हमने शाला परिसर में सैनिटाइजर की व्यवस्था है। प्रत्येक आने वाले व्यक्ति को सैनिटाइज किया जाता है। यहां आने वाले के लिए मास्क का उपयोग अनिवार्य है। शाला परिसर में इसके लिए एक पोस्टर भी लगाया गया है।

हम सुरक्षित रहेंगे तो परिवार सुरक्षित रहेगा

कोरोना की गाइडलाइन का पालन सभी को करना चाहिए। हम सुरक्षित रहेंगे तो परिवार सुरक्षित रहेगा। बिना मास्क घर से कभी भी हम नहीं निकले। साथ ही इसे लेकर हमें अन्य लोगों को भी जागरूक करना जरूरी है। - अजहरूद्दीन मंसूरी

सामान्य तौर पर देखने में आता है कि जानते हुए भी हम मानते नहीं है। सामने वाले ने यदि मास्क नहीं लगा रखा है तो हम भी हमारा मास्क कई बार चेहरे से हटा लेते है। ये गलत है। फिलहाल मास्क ही वैक्सीन है। -जितेंद्र पटेल

बाजार सहित अन्य स्थानों पर शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना बहुत जरूरी है। कोरोना वायरल से सुरक्षा ही बचाव है। बचाव के लिए जारी गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित करने के साथ ही मास्क हर साल में हमें लगाना चाहिए।- आतिश कनासिया

कोरोना से बचाव के लिए मास्क का उपयोग करना बेहद जरूरी है। थोड़ी सी लापरवाही गंभीर हो सकती है। आपस में दूरी बनाए रखे और जब भी घर से बाहर निकले मास्क पहने। नियमों का पालन कर इस बीमारी से विजय प्राप्त कर सकते हैं। -बद्रीलाल गोयल

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस