देवास। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में गायत्री परिवार वृक्ष गंगा अभियान चला रहा हैं। इसी क्रम में माता चामुंडा की पावन टेकरी पर स्थित श्रीशीलनाथ धूनी परिसर में पौधारोपण कार्यक्रम शीलनाथ धूनी आश्रम संचालक संत माधवानंद गिरी महाराज के सानिध्य एवं टेकरी प्रभारी महेश चंद्रवंशी के मार्गदर्शन में संपन्ना हुआ।

गायत्री शक्तिपीठ के मीडिया प्रभारी विक्रमसिंह चौधरी ने बताया कि इस मौसम में गायत्री परिवार लगातार अभियान को गति प्रदान कर रहा है।

अभियान के तहत फलदार, छायादार एवं औषधिय पौधे रोपित किए गए।माधवानंद गिरी महाराज ने पौधा रोपण करते समय वृक्ष की महत्ता बताते हुए कहा कि आज पेड़ पौधे स्वयं भगवान शिव के रूप में साक्षात है जो कि विषैली कार्बन डाइआक्साइड को पान करते हैं और अमृतमई आक्सीजन हमारे लिए छोड़ते हैं। जिससे हमारा जीवन चलता है। पेड़ों का उपकार मानव जीवन पर बहुत बड़ा है। जिसका ऋण हम कभी नहीं चुका सकते इसलिए हर जनमानस को बारिश के मौसम में अपने जन्म दिवस, विवाह दिवस, अन्य मांगलिक प्रसंग या अपने पूर्वजों की स्मृति में कम से कम 11 पौधे अनिवार्य रूप से लगाना चाहिए। इस अवसर पर देवीशंकर तिवारी, महेश आचार्य, शेषनारायण परमार, देवकरण कुमावत, सुभाष जैन, हजारीलाल चौहान, लक्ष्‌मण पटेल, बाबूलाल सोलंकी, जिला युवा समन्वयक प्रमोद निहाले की उपस्थिति रही। पौधारोपण आयोजन का आभार टेकरी प्रभारी महेश चंद्रवंशी ने माना।

कांवड़ यात्रा के चालक से मारपीट, प्रदर्शन के बाद टीआइ ने मांगी माफी

उदयनगर। कांवड़ यात्रा के चालक के साथ मारपीट के मामले में कांवड़ियों के जत्थे ने उदयनगर पुलिस थाना में धरना प्रदर्शन किया।

टीआइ को लेकर गंभीर आरोप लगाए। थाना परिसर में बैठक जमकर नारेबाजी की। पुलिस अनुविभागीय अधिकारी संजीव मूले धारना स्थल पर पहुंचे।

कांवड़ियों व पुलिस कर्मचारियों से चर्चा की। इसके बाद थाना प्रभारी नरेंद्र परिहार ने सभी कांवड़ यात्रियों से माफी मांगी। इसके बाद मामला शांत हुआ। इस दौरान कांवड यात्री के गले में दुपट्टा डाला कर मामले को शांत करवाया गया।

दरअसल, जय शिव कांवड़ यात्रा सेमली द्वारा विगत आठ साल से निकल रही है। यात्रा धाराजी से क्षिप्रा संगम पर वेंकटेश्वर मंदिर में जल अभिषेक के लिए शुक्रवार को उदयनगर से निकल रही थी। इस दौरान डीजे चलाक कान्हा जायसवाल वाहन के जरिए पेट्रोल पंप से डीजल लेकर उदयनगर थाने के पास से निकल रहा था। डीजे की आवाज तेज होने के कारण थाना प्रभारी नरेंद्र परिहार ने कान्हा के साथ झूमाझटकी कर दी। जिसकी जानकारी कांवड यात्रियों को लगी तो शनिवार को सभी यात्री उदयनगर थाना परिसर पहुंचे। उन्होंने मांग की कि जिसने भी हमारे साथ मारपीट की उसके खिलाफ मामला दर्ज कर निलंबित किया जाए। इसको लेकर एक घंटे तक प्रदर्शन जारी रहा। घटना की जानकारी बागली एसडीओपी संजीव

मूले उदयनगर पहुंचे। यात्रियों से चर्चा की उसके बाद थाना प्रभारी से माफी मांगने की बात की। थाना प्रभारी के माफी मांगने के बाद स्थिति सामान्य हुई तो कांवड़ियों ने प्रदर्शन खत्म किया। यात्रा में करीब 70 लोग शामिल थे। मुख्य रूप पप्पू, सूर्य, रघुनाथसिंह दागी, सोहन दांगी, विजेंद्र दांगी आदि शामिल थे। थाना प्ररिसर में चारों पुलिस जवानों तेनात थे। घटना के समय बागली थाना प्रभारी दीपक यादव अपने स्टाफ के साथ उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close