बेहरी (नईदुनिया न्यूज)। क्षेत्र को बागली मुख्यालय से जोड़ने वाली बागली-धावड़िया प्रधानमंत्री सड़क अतिक्रमण का शिकार हो रही है। इस सड़क का उपयोग 20 से अधिक गांव के लोग आवाजाही में करते हैं। यहां से सैकड़ों छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं, जिनमें अधिकांश ट्रैक्टर, बैलगाड़ी, थ्रेशर मशीन आदि होते हैं। सड़क पर अतिक्रमण होने से इन वाहनों को निकलने में परेशानी हो रही है।

इस सड़क के किनारे झाड़ियों से ढंक चुके हैं। एक स्थान पर किसान ने मार्ग से लगाकर कुआं ही खोद लिया। कुएं के साथ ही बड़े पत्थर सड़क किनारे जमा दिए। यहां अंधा मोड़ होने से आएदिन दुर्घटना होती है। कई वाहन तेज गति से आते हैं और मोड़ होने से अचानक पत्थर से टकरा जाते हैं। यहां से गुजरने वाले ग्रामीण अतिक्रमण को देखते हुए नाराज जरूर है, लेकिन विवाद से बचने के लिए शिकायत नहीं कर रहे हैं। इसी सड़क पर कुछ जगह गोबर के घुड़े भी बने हुए हैं। ये भी दुर्घटना का कारण बन रहे हैं। विगत दिनों ट्रैक्टर की चपेट में आने से बेहरी निवासी एक युवक की मौत हो चुकी है। यह पांच ग्राम पंचायतों को जोड़ने वाला व्यस्ततम मार्ग है। बेहरी, गुवाड़ी, लखवाड़ा, चारबर्डी एवं धावड़िया ग्राम पंचायत के सरपंच ने संयुक्त रूप से अतिक्रमणकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए कलेक्टर को पत्र लिखा है। साथ ही बागली अनुविभागीय अधिकारी को अवगत कराया है।

अतिक्रमण करने वालों पर कार्रवाई करेंगे

इस संबंध में बागली अनुविभागीय अधिकारी अरविंद चौहान का कहना है कि बेहरी मार्ग पर हुए अतिक्रमण की जानकारी मुझे नहीं है। किसी पंचायत का शिकायत पत्र अभी तक मुझे प्राप्त नहीं हुआ। अगर किसी भी पंचायत का शिकायत पत्र नामजद या अतिक्रमण का आता है तो हम कार्रवाई करेंगे। वैसे भी अतिक्रमण करना कानूनी अपराध है, वह भी प्रधानमंत्री सड़क के किनारे। संबंधित पर कार्रवाई अवश्य की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस