Madhya Pradesh News: देवास/खातेगांव (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिले की खातेगांव तहसील में पदस्थ महिला फूड इंस्पेक्टर ने गुरुवार शाम प्रेस वार्ता में एसडीएम संतोष तिवारी पर छेड़छाड़ के आरोप लगाए। उन्होंने कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला से भी इसकी शिकायत की, जिस पर उन्होंने एसडीएम का तबादला कलेक्टर आफिस में बतौर डिप्टी कलेक्टर कर दिया है। उनके स्थान पर डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन गौड़ को खातेगांव एसडीएम बनाया है। पुलिस तक अभी मामला नहीं पहुंचा है।

फूड इंस्पेक्टर ने पत्रकारों को बताया वे नवंबर 2020 से खातेगांव में कार्यरत हैं। एसडीएम तिवारी उन्हें फोन और वाट्सएप संदेश कर छेड़छाड़ करते रहे हैं। पांच दिन से कुछ ज्यादा ही परेशान किया जा रहा था। काम ज्यादा होने से रविवार को स्टाफ के साथ आफिस में थी, तब एसडीएम तिवारी भी वहां आए और मुझे केबिन में बुलाकर छेड़छाड़ की। सोमवार को भी उन्होंने फोन कर मेरे रूम पर आने की बात कही। मैं डर गई थी। मैंने सारी बात पति को बताई। उसके बाद हम दोनों कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला के पास गए। उन्हें सारी काल रिकार्डिंग एवं मैसेज भी दिखाए।

गलत आरोप

एसडीएम तिवारी का कहना है फूड इंस्पेक्टर द्वारा लगाए आरोप बेबुनियाद हैं। मैं पौने दो साल से खातेगांव में पदस्थ हूं। मेरा स्वभाव ऐसा होता तो अभी तक कितनी ही महिलाएं मुझ पर आरोप लगा चुकी होती। अगर कोई कर्मचारी ठीक से काम नहीं करेगा तो डांट-फटकार तो करनी पड़ेगी। बस, इसी कारण से मुझ पर गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags