Navratri 2022: देवास। देवास की सिद्धपीठ माता टेकरी पर मां चामुंडा, मां तुलजा भवानी के दर्शन करने 20 लाख से अधिक श्रद्धालुओं के पहुंचने का अनुमान है। श्रद्धालु सुगमता से दर्शन कर सकें, इसके लिए हर स्तर पर तैयारियां की गई हैं। माता टेकरी 52 शक्तिपीठों में शामिल है, अन्य शक्तिपीठों में माता के शरीर के भाग गिरे थे, किंतु ऐसी मान्यता है कि टेकरी पर माता का रक्त गिरा था, जिससे मां चामुंडा का प्राकट्य हुआ।

देवास में माता टेकरी सुबह से ही भक्तों की भीड़ उमड़ने लगी। पहली आरती में बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए है। सुबह बड़ी माता मां तुलजा भवानी और छोटी माता मां चामुंडा मंदिर में पुजारियों ने घटस्थापना की। मां का विशेष शृंगार किया गया। सुबह से ही शहर में बड़ी संख्या में भक्तों का आने का सिलसिला शुरू हो गया था। कई भक्त अपनी मनोकामना लेकर पहुंचे हैं। कोई घुटनों के बल तो कोई बुजुर्ग व्हीलचेयर पर दर्शन करने के लिए मां के दरबार में पहुंचा। भक्तों की सुविधा के लिए परिक्रमा मार्ग पर ग्रीन कारपेट बिछाया गया है वहीं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

एसडीएम प्रदीप सोनी ने बताया कि परिसर में करीब 80 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इस बार बड़ी संख्या में भक्तों के पहुंचने का अनुमान है इसलिए सफाई व्यवस्था को लेकर भी अलग-अलग टीमें लगी हैं, जो लगातार सफाई व्यवस्था की जिम्मेदारी संभाले हुए हैं। बीती रात कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला एसपी डाक्टर शिव दयाल सिंह ने भी टेकरी का दौरा किया था और सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही व्यवस्थाएं देखी थी।

Koo App
पूरे राष्ट्रवासियों को शारदीय नवरात्रि की पतंजलि परिवार और पूरे भारत के ऋषि सत्ता, सनातन धर्म की ओर से हार्दिक शुभकामनाएं। आज नवरात्रि का प्रथम दिन हैं और नवरात्रि में व्रत-उपवास करते हुए, उपासना करते हुए, शक्ति की अराधना करते हुए, बल की उपासना करते हुए शरीर बल, इन्द्रिय बल, मनोबल, आत्म-बल बढ़ाएं। आज नवरात्र है, तो शैलपुत्री की देवी की, शक्ति की उपासना, मानें जितने भी स्वरूपों में, केवल इस मूर्ति के रूप में ही नहीं, जितने भी स्वरूपों में हमें इस पूरे अस्तित्व में यह जो पूरी प्रकृति है, यह प्रकृति ही शक्ति स्वरूपा है। - परम पूज्य योगऋषि स्वामी रामदेव जी महाराज #Navratri2022 #PatanjaliProducts - स्वामी रामदेव (@swamiramdev) 26 Sep 2022

Posted By: Prashant Pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close