देवास(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण से कई लोगों की जान चली गई। कई लोग कोरोना से जंग लड़कर जीत गए, लेकिन कोरोना को हराने के बाद भी संक्रमण का नुकसान लोगों में देखा जा रहा है। ठीक होने वाले मरीजों में पोस्ट कोविड के लक्ष्‌ण ज्यादा सामने आ रहे हैं। पहले लोगों में थकान कमजोरी, सांस फूलना सहित अन्य समस्या सामने आ रही थी, लेकिन कोरोना से मुक्त होने के बाद व्यक्तियों में बड़ी समस्या देखने में आ रही है। लोगों में ब्लड गाढ़ा होने की समस्या आ रही है। ब्लड के थक्के जमने की समस्या लोगों में आ रही है। इस समस्या से युवा से लेकर बुजुर्ग जुझ रहे हैं। इसके लिए डॉक्टरों की टीम कोविड के इलाज के साथ ही मरीजों को ब्लड पतला करने की दवाइयां देना शुरू करते हैं। जिससे समस्या ज्यादा गंभीर ना हो। करीब 2 से 3 माह तक ब्लड को पतला करने की दवा दी जाती है। इसमें मरीजों को आराम करने की सलाह भी दी जाती है। विशेषज्ञों का मानना है कि ब्लड गाढ़ा होने के कई कारण हो सकते हैं। इस समस्या को लेकर कोई स्पष्ट कारण नहीं हैं। ब्लड गाड़ा होने से हार्ट के साथ ही लकवे की समस्या हो सकती है। कोविड से ठीक होने के बाद लोगों को दिनचर्या को लेकर ध्यान देना चाहिए। ठीक होने के बाद भी लगातार डॉक्टर से संपर्क कर मार्गदर्शन लेना चाहिए। जिला अस्पताल के कोविड प्रभारी

डाक्टर बीआर शुक्ला ने बताया कि पोस्ट कोविड मरीजों में कमजोरी, थकान सहित अन्य समस्या आ रही है। साथ ही एक सबसे बड़ी समस्या ब्लड गाढ़ा होने की आ रही है। इसमें ज्यादा मरीज इस समस्या से पीड़ित हैं। इसके लिए डॉक्टरों की टीम शुरू से ही इलाज शुरु कर देती है। करीब 2 से 3 माह तक मरीजों को ब्लड पतला करने की दवाइयां दी जाती है। साथ ही उन्हें आराम करने की सलाह दी जाती है। नॉर्मल स्थिति होने पर डाक्टर की सलाह के अनुसार हल्की एक्सरसाइज की जा सकती है। कोविड के ठीक होने के बाद मरीजों को डाइट का विशेष ध्यान रखना होता है। हल्दी का सेवन किया जा सकता।

फेफड़ों के टिशू कड़क हो जाते हैं

पोस्ट कोविड में मरीजों को कई समस्याओं को सामना करना पड़ता है। अगर कोरोना ने फेफड़ों को ज्यादा नुकसान पहुंचाया है तो सांस फूलने की समस्या आती है। ठीक होने वाले व्यक्ति में फाइब्रोसिस हो सकता है। इसमें फेफड़ों के टिशू कड़क हो जाते हैं जिससे कि व्यक्ति के सांस लेने की क्षमता कम हो जाती है। थोड़ा सा काम करने पर भी उसकी सांसें फूलने लगती है। इसके लिए कोविड के दौरान एक्सपर्ट के मार्गदर्शन एक्सरसाइज करने चाहिए।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags