सोनकच्छ। अभा श्री दामोदर वंशीय मेहता माहेश्वरी जूना गुजराती दर्जी समाज के धर्मगुरु श्री गुरु टेकचंद महाराज का 210वां समाधि महोत्सव शरद पूर्णिमा पर नगर में मनाया। समाजजन ने कबीर मार्ग स्थित समाज की धर्मशाला पर गुरुदेव की महाआरती व भंडारे का आयोजन किया। समाजजन ने अलसुबह धर्मशाला पर एकत्रित होकर अपने आराध्य पूज्य गुरुदेव के दर्शन व पूजा किए। दोपहर 12 बजे महाआरती प्रारंभ हुई। आरती का लाभ समाज के वरिष्ठ समाजसेवी नानूराम परमार (छायनमैना वालों) ने 5100 रुपये की बोली लगाकर प्राप्त किया। इस वर्ष प्रथम बार बोली लगाकर आरती करने की शुरुआत की गई। इस अवसर पर समाज के संरक्षक भंवरलाल जाधव, राधेश्याम नायक, अध्यक्ष गोवर्धन लाल जाधव, सचिव अशोक सोलंकी, कोषाध्यक्ष रामेश्वर परमार, कमल कृष्ण चौहान, देवीप्रसाद परमार, बंसीलाल सिसोदिया विशेष रुप से उपस्थित थे। समाज के पूर्व अध्यक्ष रविंद्र नायक ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष शासन गाइड लाइन अनुसार चल समारोह का आयोजन नहीं कर समाज की धर्मशाला पर पूजा व भंडारे का आयोजन किया गया। संगीतमय महाआरती नव युवक मंडल के यशवंत चावड़ा और उनकी टीम द्वारा की गई। इस अवसर पर नगर व आसपास के क्षेत्र से बड़ी संख्या में समाजजन शामिल हुए।

कृष्णपालसिंह सहायक कृषि अधिकारी पद पर चयनित

सोनकच्छ। सहायक कृषि अधिकारी के पद पर सोनकच्छ तहसील के ग्राम बेराखेड़ी के कृष्णपाल सिंह परिहार का चयन हुआ है। परिहार ने वर्ष 2010 में उत्कृष्ट विद्यालय देवास से गणित तथा जीव विज्ञान में 12वीं पास की। 2011 में सीईटी परीक्षा में चयनित हुए। 2015 में महाराष्ट्र एग्रीकल्चर शिक्षा एवं अनुसंधान परिषद पुणे (महाराष्ट्र) द्वारा आयोजित पोस्ट ग्रेजुएट लेवल - सीईटी परीक्षा में चयन हुआ। परिहार महाराष्ट्र में मृदा विज्ञान एवं कृषि रसायन विभाग में गन्नाा फसल पर शहरी कंपोस्ट के प्रभाव पर अनुसंधान में शोधार्थी के रूप में अध्यनरत है। चयन पर परिहार स्वजनों व समाजजन ने आगे भी बेहतर परीणाम की उम्मीद जताई है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local