देवास(नईदुनिया प्रतिनिधि)। पांच दिन बाद पुलिस ने दुकान से टायर चोरी के मामले में दो आरोपितों को धर दबोचा है। आरोपितों ने चोरी के माल को जंगल में स्थित खेत में छुपा रखा था, लेकिन बेचने से पहले ही पुलिस ने माल के साथ आरोपितों को पकड़ लिया। घटना को अंजाम देने से दो दिन पहले आरोपितों ने टायर की दुकान की रैकी थी। पुलिस ने टायर, एक ट्रैक्टर ट्राली और बाइक बरामद की है। हालांकि पुलिस आरोपितों के अन्य दो आरोपितों की तलाश में जुटी है।

मामले के पर्दाफाश मंगलवार को बीएनपी थाने पर सीएसपी विवेकसिंह ने प्रेसवार्ता कर किया। 22 सितंबर की रात को मंडी रोड स्थित टायर की दुकान पर चोरों ने घटना को अंजाम दिया था। टायरों के साथ चोर नगदी पैसा भी चोरी हुआ था। कांग्रेस नेता जितेंद्रसिंह गौड़ की रिपोर्ट बीएनपी थाने में प्रकरण दर्ज किया गया था। मामले की जांच को लेकर बीएनपी थाना प्रभारी के नेतृत्व में टीम गठित की थी। मुखबिर और सुरागों के आधार पर टीम ने पांच में आरोपित 30 वर्षीय जितेंद्र पुत्र सुमेरसिंह नागर निवासी काकड़दा भौंरासा और 18 वर्षीय इमरान पुत्र जाहिर खान निवासी सीखेड़ी भौंरासा को गिरफ्तार किया। आरोपितों के कब्जे से 25 टायर, ट्रैक्टर ट्राली और बाइक जप्त की है। पुलिस आरोपितों के दो अन्य साथियों की तलाश में जुटी हैं। पर्दाफाश करने में थाना प्रभारी मुकेश इजारदार, उनि अजयसिंह, उनि सुरेश मिश्रा, सउनि मनोज पटेल, जफर खान, परसराम चंदेल, प्राधान आरक्षक राहुल चावड़ा, सुमेरसिंह, रामप्रतापसिंह, भूपेंद्र, सुरेश कुमावत, शिव वसुनिया,भगवानसिंह बैस और सायबर सेल के प्रधान आरक्षक सचिन के साथ ही शिवप्रताप सेंगर की अहम भूमिका रही।

-जितेंद्र के डंपर चलते हैं। जिसमें टायर इस्तेमाल करने की नीयत थी

दोनों आरोपितों में एक आरोपित इमरान पहले एक बार जेल जा चुका है। वहीं दूसरा आरोपित जितेंद्र आर्थिक रूप से सक्षम हैं। उसके डंपर चलते हैं। उसके ही खेत में चोरी का माल छुपाया गया था। जितेंद्र अपने डंपरों में चोरी के इन टायरों का इस्तेमाल करना चाहता था। पुलिस ने दो टायर आरोपित इमरान के घर से बरामद किए हैं।

ॅ, नै ्र ुरैाी-जॅचबीः ॅीि-ुचिॅत ऋ

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local