- कोरोना के कहर से पूरी तरह बाहर नहीं आ पा रहा देवास

देवास (नईदुनिया प्रतिनिधि)। बैंक नोट प्रेस के गुरुवार को दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले है। इसके अलावा भौसले कॉलोनी में एक महिला पॉजिटिव मिली है। इन तीन मरीज मिलने के बाद माना जा रहा है कि कोरोना के कहर से देवास पूरी तरह बाहर नहीं आ रहा है। यहां पिछले कई दिन से पॉजिटिव मरीज कम या नहीं मिल रहे है तो एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी हो गई। इसके बाद नए मरीज मिलना चिंताजनक हो गया है।

गुरुवार को मिली रिपोर्ट में बीएनपी का 35 वर्षीय पुरुष, आवास नगर का 58 वर्षीय पुरुष और भौसले कॉलोनी की 40 वर्षीय महिला पॉजिटिव है। इन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। बताया जाता है कि आवास नगर के पॉजिटिव मरीज के परिवार में छह लोगों को क्वारंटाइन किया जाना था लेकिन इनका घर बड़ा होने की वजह से वहीं रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम यहां पहुंची थी और परिजन को शारीरिक दूरी सहित अन्य आवश्यक समझाइश देकर अलग-अलग कमरों में रखा गया है। आवास नगर का पॉजिटिव भी बैंक नोट प्रेस में ही नौकरी करता है। भौसले कॉलोनी की महिला का 30 जून को सैंपल लिया गया था और वह पहले से ही अमलतास अस्पताल में भर्ती है।

गुरुवार को जांच के लिए कुल 145 सैंपल लैब में भेजे गए है। 218 सैंपल की रिपोर्ट मिली, जिनमें से छह पैथालाजी द्वारा रिजेक्ट कर दिए गए। अब तक कुल 7617 सैंपल जांच के लिए भेजे गए। इनमें से 7300 की रिपोर्ट मिल चुकी है। 317 सैंपल की रिपोर्ट आना बाकी है। देवास में अब तक कुल 223 पॉजिटिव मरीज मिल चुके है। कोरोना संक्रमण के बाद 190 स्वस्थ्य हो चुके है। 10 लोगों की मौत हुई है तो 23 मरीजों का उपचार चल रहा है।

बिना मास्क घूमने वालों को समझाइश और कार्रवाई का सिलसिला निरंतर जारी है। चौराहों पर पुलिसकर्मी बिना मास्क निकलने वाले बाइक सवारों को समझाइश भी दे रहे हैं और चालानी कार्रवाई भी कर रहे है। कोरोना संक्रमण रोकने की द्ष्टि से निगमायुक्त विशालसिंह चौहान के निर्देश पर शहर में बिना मास्क के निकलने वाले राहगीरों पर निरंतर चालानी कार्रवाई पुलिस प्रशासन के सहयोग से की जा रही है। बुधवार को की गई कार्रवाई में 7820 रुपये की राशि वसूली गई।

कलेक्टर की अपील, सर्दी, खांसी, बुखार के लक्षण होने पर कराएं जांच

कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला ने जिलेवासियों से अपील की है कि किसी को सर्दी, खांसी, बुखार या कोरोना के लक्षण हो तो तत्काल नजदीकी सरकारी अस्पताल जाकर जांच करवाएं। डरे नहीं, न ही इसे छुपाएं। उन्होंने कहा है कोरोना का इलाज संभव हैं, जिले में कोरोना वायरस संक्रमण के मरीजों का उपचार हो रहा हैं तथा मरीज स्वस्थ्य होकर घर को जा रहे हैं। जिले का रिकवरी रेट लगभग 85 प्रतिशत है। उन्होंने सभी से आग्रह किया है कि जिले में सर्वे टीम घर-घर जा रही है, उन्हें भी सही-सही जानकारी देकर किल-कोरोना अभियान में सहभागी बने।

पहले ही दिन 90 हजार 671 घरों तक पहुंची सर्वे टीम

- 487267 लोगों का हुआ सर्वे, सर्दी, खांसी बुखार से 999 व्यक्ति ग्रसित पाए गए

देवास। बुधवार से शुरु किए गए किल-कोरोना अभियान के तहत घर-घर सर्वे जांच व उपचार किया जा रहा है। इस अभियान के पहले ही दिन सर्वे टीम द्वारा जिले के 90 हजार 671 घरों का सर्वे कर चार लाख 87 हजार 267 लोगों से संपर्क किया गया। सर्वे दलों द्वारा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर कोरोना, सर्दी, खांसी, बुखार, मलेरिया, डेंगू, अन्य बीमारियों के लोगों को चिन्हित किया और जांच व उपचार उपलब्ध कराया गया। जिले में कुल 1657 सर्वे दल हैं जिनमें में आशा, एएनएम, आंगनवाड़ी और स्वास्थ्यकर्मी सम्मिलित है।

प्रभारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एसएस डगांवकर ने बताया स्वास्थ्य विभाग और महिला बाल विकास विभाग के अमले द्वारा सर्वे कार्य किया जा रहा है। जिले में सर्वे के दौरान सर्दी, खांसी, बुखार के 999 प्रकरण भी चिन्हित किए जिनका मेडिकल किट से जांच कर, उपचार किया जा रहा है।

कोरोना मीटर

ताजा नए मामले- 03

एक दिन पहले के मामले - 00

कुल मामले - 223

मौतें- 10, स्वस्थ्य हुए - 190

एक्टिव मरीज- 23

एक सप्ताह पहले की स्थिति

कुल मामले- 206

मौतें- 10, स्वस्थ्य हुए-164

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan