देवास (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ट्रैफिक विभाग ने यातायात नियमों की जागरुकता को लेकर बुधवार को एसपी डॉक्टर शिवदयालसिंह के मार्गदर्शन में कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें ट्रैफिक नियमों का पालन करवाने वाले विद्यार्थियों के साथ अन्य लोगों का शपथ दिलवाई गई।

कार्यक्रम में नुक्कड़ नाटक भी आयोजन हुआ। इसमें एक युवक यमराज बने। यमराज ने सड़क पर उतरकर कहा अगर नियमों का पालन नहीं करोगो तो मैं तुम्हे अपने साथ ले जाऊंगा। कुछ लोगों को हेमलेट भी पहनाए गए। ट्रैफिक डीएसपी किरण कुमार शर्मा ने सभी को शपथ दिलाई। जागरूकता को लेकर बैनर और पंपप्लेट भी बांट गए। इसके अलावा ट्रैफिक थाने के सामने भी जागरूकता अभियान चलाया गया। इसमें यमराज ने लोगों को जागरूक किया। नियमों का पालन करने वाले लोगों को हेलमेट भी बांटे गए। कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम में तोमर एकेडमी, जय भारतवीर एकेडमी, एनएसएस, जयहिंद व निशा ग्रुप संस्थान के करीब 400 विद्यार्थियों व उनके शिक्षकों ने भाग लिया।

-मैं शपथ लेता हूं, वाहन चलाते वक्त मोबाइल पर बात नहीं करूंगा-ट्रैफिक डीएसपी किरण शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम के दौरान ट्रैफिक हीरो को सम्मानित भी किया गया। इसमें विद्यार्थियों ने ट्रैफिक सप्ताह के दौरान ट्रैफिक संभाल कर अपनी जिम्मेदारी संभाली थी। शर्मा ने विद्यार्थियों व अन्य लोगों को शपथ दिलवाई। सभी ने शपथ ली कि वाहन चलते वक्त मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करूंगा। सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करूंगा। परिवार व मित्रों को भी नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित करूंगा।

कन्या महाविद्यालय में बांधनी औ ब्लाक प्रिंटिंग पर आनलाइन कार्यशाला

देवास। मपुराप शासकीय कन्या महाविद्यालय देवास के आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ(आईक्यूएसी), गृह विज्ञान विभाग व राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के तत्वावधान में जाब ओरिएंटेशन एंड स्किल डेवलपमेंट इन बांधनी (टाइ एंड डाइ) एंड ब्लाक प्रिंटिंग पर आनलाइन कार्यशाला का आयोजन किया गया। विषय विशेषज्ञ के रुप में कृषि विज्ञान केन्द्र उज्जैन की सीनियर टेक्निकल आफिसर(होम साईंस) डॉ.मोनी सिंह उपस्थित थी। उन्होंने उपस्थित सहभागियों को आनलाइन प्रैक्टिकल करते हुए बांधनी और ब्लॉक प्रिंटिंग का प्रदर्शन किया जिसे सहभागियों ने भी दोहराया। डॉ.मोनी सिंह के सहयोगियों के रूप में ग्राम चंदेसरी (उज्जैन) की महिला उद्यमी ज्योति मालवीय व अर्चना मालवीय उपस्थित थी जिन्हें डॉ.मोनी सिंह द्वारा प्रशिक्षित किया गया है। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में उद्यमिता की बहुत संभावनाएं हैं जिसे वे विभिन्ना आनलाइन/आफलाइन प्लेटफॉर्म अमेजॉन सहेली, हस्तशिल्प, ट्राइब्स आफ इंडिया व शिल्पग्राम उद्योग इत्यादि पर मार्केटिंग कर सकती हैं। कार्यशाला के आरंभ में विषय प्रवर्तन कार्यशाला की संयोजक डॉ.अनिता भाना ने किया। अतिथि वक्ता का परिचय आइक्यूएसी प्रभारी डॉ.भारतसिंह गोयल ने प्रस्तुत किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ.वंदना मिश्रा ने कार्यशाला में उपस्थित अतिथियों व सहभागियों का स्वागत करते हुए विषय की उपयोगिता को प्रतिपादित किया। आभार प्रदर्शन सहायक प्राध्यापक वर्षा गोले ने किया। कार्यशाला में बड़ी संख्या में प्राध्यापकों, शोधार्थियों व विद्यार्थियों ने सहभागिता की।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags