दसाई। समीपस्थ ग्राम घटोदा में एक मकान के बाड़े में अजगर का जोड़ा घुस आया है। रातभर अजगर का जोड़ा यहां एक कच्चे मकान की दीवार के छेद में छुपकर बैठा रहा। सूचना के बाद वन विभाग की टीम सुबह गांव में पहुंची। टीम में शामिल एक्सपर्टाें ने अजगर का जोड़ा पकड़ा। जोड़े को पानी की दो के न में अलग-अलग बंद कर वन विभाग की टीम अपने साथ ले गई।

वन विभाग के डिप्टी रेंजर के पी मिश्रा ने बताया कि शनिवार रात को घटोदा गांव के मुके श सोलंकी ने एसडीएम को बताया कि उनके मकान के बाड़े में अजगर का जोड़ा घुस आया है। इस पर एसडीएम ने वन विभाग के एसडीएम डामोर को फोन कि या। उन्होंने रेंजर को बताया, लेकि न वे धार में थे।

उन्होंने रात 8.30 बजे मुझे फोन कर सूचना दी। इस पर मैंने गांवों वालों से संपर्क कि या। ग्रामीणों ने मुझे बताया कि पक्का मकान है। पीछे एक टापरी बनी है, जहां अजगर दीवार के छेद में घुस जाता है। मैंने कहा ठीक है। यदि आपको खतरा न हो तो हम सुबह आकर पकड़ेंगे। आपका पक्का मकान है। रात में दरवाजा बंद रखें।

मिश्रा ने बताया कि रविवार सुबह एक्सपर्ट टीम के साथ घटोदा गांव पहुंचे। जहां कच्चे मकान की दीवार के छेद में छुपकर बैठे जोड़ों को बाहर निकाला गया। इसके बाद दोनों को एक्सपर्ट की मदद से पकड़ा गया। मिश्रा ने बताया कि नर और मादा अजगर क्रमश: 5 और 6 फीट के थे। दोनों को पकड़कर सरदारपुुर ले गए।

तालाब के कारण अजगर आए

अजगर को देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई थी। वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों को दूर रहने की हिदायत दी। वन विभाग के डिप्टी रेंजर मिश्रा ने बताया कि अजगर ठंडक के कारण यहां आ गए हैं। इसकी वजह यह है कि मकान से 100 फीट की दूरी पर ही तालाब है और तालाब के कारण अजगर आए हैं। वन विभाग की टीम में शामिल वन रक्षक गोकु लसिंह नागेश, अनिल कटारे व बहादुरसिंह रणदा के प्रयास से अजगर का जोड़ पकड़ा गया।

Posted By: Hemant Upadhyay