खबर का असर ---

खराब सड़क की ली सुध, फोरलेन पर छोकला व माकनी में मरम्मत कार्य प्रारंभ

-26 दिनों के बाद भी आरोपित पुलिस गिरफ्त से बाहर

-गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत का आवदेन लगाया था, वह भी हुआ निरस्त

बदनावर। नईदुनिया न्यूज

लेबड़-नयागांव फोरलेन पर आखिरकार कंपनी ने खराब सड़क की चार माह बाद सुध ले ही ली और ग्राम छोकला से कानवन व माकनी में मरम्मत का काम शुरू किया गया है। हालांकि सड़क सुधार के लिए लोगों को सड़क पर प्रदर्शन करना पड़ा। यहां तक कि लोगों के आक्रोश व जनभावना को देखते हुए तथा भविष्य में कोई जनहानि नहीं हो इसके लिए अनुविभागीय अधिकारी के आदेश पर कंपनी के एक अधिकारी के खिलाफ कानवन पुलिस ने प्रकरण तक दर्ज किया था। एक लेन में करीब 6 किमी सड़क पर गड्ढों में डामरीकरण करने का दावा किया गया है। वहीं करीब 8 किमी की सड़क में भी शीघ्र ही मरम्मत होने का भरोसा दिलाया गया है।

इस संबंध में जनमानस की आवाज बन नईदुनिया ने समय-समय पर समाचार प्रकाशित किए थे। इसको देखते हुए कंपनी ने ताबड़तोड़ में दो से तीन स्थानों पर सड़क की मरम्मत कर रही है। अब लोगों को उम्मीद है कि सड़क की पूरी तरह मरम्मत कर दी जाएगी।

फोरलेन पर ग्राम मुलथान से लेबड़ तक सड़क की हालत कहीं-कहीं उबड़ खाबड़ हो रही है। इस कारण सड़क पर वाहन चलाना मुुश्किल भरा हो गया है। दुपहिया व चार पहिया वाहन चालकों को तो सड़क पर गड्ढों से बचने के लिए कलाबाजी करते वाहन चलाना पड़ रहे हैं। ट्रक व मल्टीएक्सल वाहनों की स्पीड 20 से 30 आगे ही नहीं बढ़ पाती है। कभी-कभी तो अचानक गड्ढा सामने आने पर ब्रेक लगाने से पीछे से आ रहे वाहन से भी टक्कर हो जाती है। इससे डीजल व पट्रोल की खपत तो अधिक हो ही रही है। टूट -फूट की नुकसानी भी झेलना पड़ रही सो अलग है। बस चालक समय को कवर करने के चक्कर में गड्ढों व हादसों की परवाह किए बिना तेज गति से वाहन चलाते हैं। इससे यात्रियों की सांसें ऊपर-नीचे हो जाती हैं। खराब सड़क पर दुर्घटनाओं में भी लगातार बढ़ोतरी हुई है। सड़क के आसपास की बस्ती में धूल उड़ने से धूल की परत जमा हो रही है। इस पर भी कंपनी तो बस भारी भरकम टोल वसूलने में ही लगी है। लोगों की भावनाओं, परेशानियों को वे सतत नजर अंदाज करते आ रही है।

अग्रिम जमानत आवदेन निरस्त हुआ, अब गिरफ्तारी होना तय

फोरलेन पर परेशानियों व लोगों के आक्रोश को देखते हुए अनुविभागीय अधिकारी नेहा साहू ने सड़क संधारण के लिए कंपनी को पत्र जारी किए और समय सीमा में सड़क सुधार के लिए आदेशित भी किया था। वेस्टर्न एमपी इंस्फ्राक्चर कंपनी के अधिकारियों द्वारा लगातार गोलमाल जवाब व भ्रामक जानकारी देने पर पुलिस को प्रकरण दर्ज करने के आदेश दिया। इस पर वेस्टर्न एमपी इंफ्रास्ट्रक्चर एंड टोल रोड प्राइवेट लिमिटेड के अधिकृत मैनेजर राजेश रामदे के खिलाफ गत 24 सितबंर को भादवि की धारा 188 में प्रकरण दर्ज किया गया। लेकिन 26 दिनों बाद भी आरोपित अब भी गिरफ्त से बाहर है। हालांकि अग्रिम जमानत के लिए अपर सत्र न्यायाधीश रश्मिना चतुर्वेदी के न्यायालय में उनके वकील ने आवेदन प्रस्तुत किया था। लेकिन जनहित का मुद्दा होने से उसे अग्रिम जमानत का लाभ देना उचित नहीं समझते हुए आवेदन निरस्त कर दिया। अब आरोपित गिरफ्तारी से बचने के लिए इधर उधर भाग रहा है और पुलिस भी सरगर्मी से उसकी तलाश करने में जुटी है।

कंपनी के मेंटनेंस अधिकारी नितिन अग्रवाल ने बताया कि एक लेन में करीब 6 किमी सड़क पर गड्ढों में डामरीकरण कर दिया गया है। करीब 8 किमी की सड़क में भी शीघ्र ही मरम्मत हो जाएगी। एक सप्ताह में सड़क के और हिस्से में भी संधारण कार्य होंगे।

19 बीड़ीएन 01 फोरलेन पर ग्राम नागदा में सड़क की मरम्मत से पहले मशीन से खुदाई करते हुए।

19बीड़ीएन 02- फोरलेन पर डामर से सड़क की मरम्मत करते हुए मजदूर।

------- -

लीड के साथ लगाएं--

फोरलेन निर्माण कंपनी ने भरवाया डिवाइडर पर खोदा गड्ढा

कानवन। नईदुनिया न्यूज

लेबड़-नयागांव फोरलेन के वैकल्पिक व सुलभ रास्ते पर फोरलेन निर्माण कंपनी ने गड्ढा खोद दिया था। इससे बाधा खड़ी होने से विद्यार्थियों को आवागमन में दिक्कतें उठाना पड़ रही थी। रांग साइड घूमकर स्कू ल आने में विद्यार्थियों को दुर्घटना का डर बना हुआ था। इसे लेकर नईदुनिया ने 19 अक्टूबर के अंक में 'डिवाइडर पर खोदा गड्ढा, जोखिम उठाकर स्कू ल जा रहे विद्यार्थी' शीर्षक से प्रमुखता से समाचार प्रकाशित कि या था। इसका तुरंत असर हुआ। खबर प्रकाशित होते ही फोरलेन निर्माण कंपनी ने डिवाइडर पर खोदे गड्ढे को भरवाया। इससे इस रास्ते से अब विद्यार्थी आसानी से स्कू ल पहुंच पाएंगे।

इधर, निर्माण कंपनी ने फोरलेन की मरम्मत का काम भी शुरु कि या है। गड्ढों को भरकर समतल कि या गया है। समस्या का निराकरण होने पर शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाओं, प्राचार्य और छात्र-छात्राओं ने नईदुनिया को साधुवाद दिया।

19के एएन02- फोरलेन निर्माण कंपनी ने डिवाइडर पर खोदे गए गड्ढे को भरवाया।

-----------------------------------

Posted By: Nai Dunia News Network