-सीएलसी में भी नहीं मिल रहे महाविद्यालय को विद्यार्थी-

-बी. कॉम, बीएससी गणित और विज्ञान में स्थिति नहीं है ठीक-

राजगढ़। नईदुनिया न्यूज

सरदारपुर-राजगढ़ स्थित श्री राजेंद्रसूरी शासकीय महाविद्यालय में इस बार प्रवेश का ग्राफ बेहद नीचे जाता नजर आ रहा है। विद्यार्थियों ने इस बार महाविद्यालय में प्रवेश को लेकर कोई खास रुचि नहीं दिखाई। इसी का नतीजा है कि दो चरण होने के बावजूद जब सीटें नहीं भर पाई तो सीएलसी राउंड का सहारा लिया गया, लेकि न बात यहां भी नहीं बनी। जितनी सीटें खाली रह गई थीं, उस लिहाज से विद्यार्थियों ने आवेदन ही नहीं कि ए। ऐसे में बीए को छोड़ दिया जाए तो बी. कॉम, बीएससी विज्ञान और बीएससी गणित में कई सीटें इस बार खाली रह जाएंगी। हालांकि ऐसे हालात क्यों बने इसके बारे में फिलहाल कु छ भी नहीं कहा जा रहा है।

दूसरे चरण तक की स्थिति देखी जाए तो बीए कम्प्यूटर जैसी ब्रांच में 40 सीटें होने के बावजूद एक भी विद्यार्थी एडमिशन लेने नहीं पहुंचा। उधर, बीएससी गणित में 60 सीटों के एवज में के वल 8 विद्यार्थियों ने ही दूसरे चरण तक प्रवेश लिया था।

सीएलएसी राउंड में ऐसी आई सूची

सोमवार देर शाम सीएलसी चरण की सूची जारी हुई। इसमें दो चरण तक बीए में 74 सीटें खाली रह गई थी। ऐसे में सीएलसी राउंड में 74 बच्चों की सूची जारी हो गई, लेकि न बी. कॉम में 71 सीटें खाली रह गई थी। इस एवज में सिर्फ 37 विद्यार्थियों की ही सूची आ सकी। साफ है कि 34 सीटें इस वर्ष खाली रह जाएंगी। ऐसे ही हालात बीएससी बॉयो में है। 63 सीटें रिक्त थी, लेकि न 45 विद्यार्थियों की ही सूची आई। ऐसे में इस विषय में 18 सीटें रिक्त रह जाएंगी। बीएससी गणित में हालात सबसे बदतर रहे। 51 रिक्त सीटों के एवज में सीएलसी चरण में सिर्फ 3 विद्यार्थियों की सूची आई। यानी 49 सीटें इसमें भी रिक्त ही रह जाएंगी।

बीए के लिए सीएलसी का फिर होगा एक चरण

महाविद्यालय के मोहन डावर ने बताया कि बीए में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की संख्या ज्यादा है। ऐसे में जो सूची सीएलसी चरण के लिए जारी हुई है, उसमें से जो विद्यार्थी प्रवेश नहीं लेते हैं उनकी जगह दूसरों को अवसर दिया जाएगा। इस लिहाज से 28 अगस्त के बाद सीएलसी का एक और चरण होगा।

दो राउंड के बाद ऐसी है स्थिति

विषय कु ल सीट प्रवेश रिक्त सीटें सीएलसी सूची

बीए 265 191 74 74

बीए कम्प्यूटर 40 00 40 40

बी.कॉम 165 94 71 37

बीएससी विज्ञान 140 77 63 45

बीएससी गणित 60 08 52 03

(महाविद्यालय से प्राप्त जानकारी के मुताबिक)

क्यों बन रहे ऐसे हालात

आधिकारिक सूत्र बताते हैं कि क्षेत्र में सुविधाओं की कमी होने की वजह से अधिकांश विद्यार्थी जिला मुख्यालय स्थित महाविद्यालयों के लिए चले जाते हैं। वहीं आने-जाने में भी विद्यार्थियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं पर्याप्त और पूर्णकालिक स्टाफ नहीं होना भी विद्यार्थी एक बड़ा कारण बताते हैं। ऐसे में जिला मुख्यालय या अन्यत्र जगह विद्यार्थियों को जाना पड़ता है। जानकारी मुताबिक महाविद्यालय में फिलहाल 6 पूर्णकालिक और 10 अंशकालिक के तौर पर प्राध्यापक हैं।

दूसरे चरण में सीटें जरूर भर जाएंगी

महाविद्यालय के कु छ विषयों में प्रवेश की स्थिति थोड़ी चिंतनीय जरूर है, लेकि न अधिकांश सीटें भर जाएंगी। कई बार विद्यार्थी ब्रांच भी बदलते हैं। अभी सीएलसी के पहले चरण के बाद दूसरा चरण फिर होगा। उसमें जरूर सीटें भर जाएंगी। -एलएस अलावा, प्राचार्य, महाविद्यालय सरदारपुर-राजगढ़

---एक कॉलम में फोटो आएगा----

20आरजेएच 01-- श्री राजेंद्रसूरी शासकीय महाविद्यालय सरदारपुर-राजगढ़।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket