खबर का असर

दुधी। ग्राम पंचायत दुधी की एक छोटी बस्ती के 25 रहवासी आजादी के बाद से विद्युत सेवा से वंचित थे। कें द्र सरकार की अटल सौभाग्य योजना के तहत यहां बिजली लाइन बिछाई गई थी। दो बार विद्युत खंभे लगाने के साथ तार बिछाए तथा ट्रांसफॉर्मर भी लगाया, बावजूद कनेक्शन नहीं जोड़ने से इन लोगों के घरों में बिजली नहीं पहुंच पाई थी। इसे लेकर नईदुनिया ने शनिवार के अंक में 'खंभों पर तार बिछाए, ट्रांसफॉर्मर भी लगाया, कनेक्शन करना भूले' शीर्षक से प्रकाशित कि या था। इसके बाद विद्युत वितरण कंपनी ने मामले को गंभीरता से लिया व गांव में पहुंचकर मौका पंचनामा बनाया। विभाग ने इस मामले में ठेके दार की लापरवाही बताई। विद्युत वितरण कंपनी ने सोमवार सुबह से शाम 4 बजे तक विद्युत व्यवस्था दुरुस्त कर ट्रांसफॉर्मर तक बिजली पहुंचाई गई। जहां से अब ग्राम के घरों में बिजली दी गई है। ग्रामीणों का कहना है कि नईदुनिया ने पुरानी समस्या को समाचार के माध्यम से हल कि या है, इसके लिए नईदुनिया को साधुवाद। उन्होंने कहा कि आजादी के समय से क्षेत्र में विद्युत व्यवस्था नहीं थी। ग्रामीण अन्य डीपी से व्यवस्था जुट रहे थे। जो एक बड़ी घटना का कारण बन सकता था। सीधे घरों तक बिजली पहुंचने से लोग खुश हैं।

फोटो-

21डीएचएन04- ट्रांसफॉर्मर का चित्र।

--------------------------------------

परिसीमन को लेकर दावे-आपत्तियां प्रस्तुत की

बदनावर। नगर परिषद के आगामी निर्वाचन को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने वार्ड के नए परिसीमन का निर्धारण कर प्राथमिक प्रकाशन कि या है। इसके बाद दावे एवं आपत्तियों को प्रस्तुत करने का सिलसिला शुरु हो गया है। नगर परिषद बदनावर में 15 वार्ड है तथा उनका नए सिरे से परिसीमन कि या गया है। इसके अनुसार कु छ वार्ड में काफी फे रबदल हुआ है। जबकि कु छ वार्डों में मामूली बदलाव कि या गया है। सोमवार को नए परिसीमन को लेकर 3 आपत्तियां निर्वाचन कार्यालय में प्रस्तुत की गई। भाजपा नेता धर्मेंद्र शर्मा, तरुण रावल एवं विजय सोनी ने यहां आपत्तियां पेश की। शर्मा ने वार्ड क्रमांक 6 व 7 के परिसीमन के बारे में, जबकि रावल ने वार्ड क्रमांक 3 व सोनी ने वार्ड क्रमांक 10 के सीमा निर्धारण को लेकर आपत्ति प्रस्तुत की है। इनमें सीमा निर्धारण को लेकर कई कारण दर्शाते हुए इन वार्ड में शामिल कि ए गए कु छ भागों को वार्ड क्रमांक 7 में जोड़े जाने की मांग की गई है। जबकि रावल ने वार्ड क्रमांक 3 अमीरपुरा की आदिवासी बस्ती को गलत तरीके से शामिल करने के बारे में बताया है। इसे पहले की तरह वार्ड क्रमांक 9 में जोड़ने की मांग की है। विजय सोनी ने वार्ड क्रमांक 10 में वारको सिटी नवीन मंडी नगर परिषद की दुकानों के क्षेत्र को शामिल करना गलत बताते हुए इसे अलग करने की मांग को लेकर आपत्ति प्रस्तुत की है। 23 अक्टूबर तक दावे एवं आपत्तियां प्रस्तुत की जा सकती है। सोमवार को अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय एवं नगर परिषद कार्यालय में कांग्रेस व भाजपा के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में वार्ड विभाजन की जानकारी लेने के लिए पहुंचे।

------------------------------------

Posted By: Nai Dunia News Network