धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। करीब चार दिन पहले दिन में गर्मी का अहसास हो रहा था किंतु मंगलवार रात से मौसम में बदलाव आया। इसके चलते जिला मुख्यालय सहित आसपास के क्षेत्रों में बुधवार को हल्की बूंदाबांदी हुई है। वहीं दिनभर रुक- रुक कर बूंदाबांदी का दौर चलता रहा। इससे शहर की सड़कें भीग गई और लोगों ने भीगने से बचने के लिए छतरी का प्रयोग किया। ऐसे में मावठे जैसी स्थिति निर्मित हो गई है। तापमान में उतार -चढ़ाव के कारण मौसमी बीमारियों का भी प्रकोप बढ़ रहा है। बुधवार का अधिकतम तापमान 26.2 व न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

अरब सागर में कम दबाव का क्षेत्र विकसित हो गया है। यह उत्तर की ओर बढ़ रहा है। इस सिस्टम से हवा का रुख उत्तर हो गया है और नमी का आना शुरू हो गया है। इससे सुबह से दिनभर बादल छाए हुए थे और हल्की बूंदाबांदी भी हुई थी। इससे महौल में ठंडक घुल गई। बादलों की वजह से अधिकतम तापमान में कोई गिरावट नहीं आई है। साथ ही न्यूनतम तापमान में वृद्धि हुई है। वहीं हवा में भी ठंडक घुल गई है। अचानक मौसम में हुए परिवर्तन के कारण लोगों के स्वास्थ्य पर भी असर पड़ने लगा है। मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर के मध्य भाग के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र है और संबंधित चक्रवाती परिसंचरण मध्य क्षोभ मंडल स्तर तक फैल रहा है। 2 दिसंबर तक इसके पश्चिम उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है। इस दौरान बंगाल की मध्य खाड़ी के ऊपर एक चक्रवात और तेज हो सकता है।

तारीख अधिकतम न्यूनतम

25 नवंबर 29.2 14.0

26 नवंबर 29.4 13.5

27 नवंबर 28.7 13.4

28 नवंबर 27.8 13.0

29 नवंबर 27.0 12.5

30 नवंबर 26.2 12.1

1 दिसंबर 26.1 12.5

तापमान डिग्री सेल्सियम में

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local