धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। सेंट टैरेसा स्कूल कंपाउंड की जमीन की अफरा -तफरी के आरोपितों के संबंध में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा मांगी गई जानकारी धार पुलिस ने इंदौर स्थित कार्यालय पर भेज दी है। यह जानकारी तय समय से पहले ही पुलिस ने दे दी है। करीब 300 पन्नाों के इस जवाब में सबसे महत्वपूर्ण मुख्य आरोपित सुधीर की करोड़ों कीमत की जमीन व उसके वाहन चालक के नाम पर मिली रजिस्ट्री के बारे में महत्वपूर्ण दस्तावेज व ब्योरा है। पुलिस ने 8 आरोपितों के बारे में दस्तावेजी जानकारी ईडी को भेजी है। इस मामले में पुलिस की जांच के साथ ही ईडी भी जांच करेगी। दस्तावेजों के अध्ययन के बाद ईडी बेनामी संपत्ति के बारे में पड़ताल कर सकती है।

इस मामले के मुख्य आरोपित सुधीर जैन ने अपनी बेनामी संपत्ति अपने ड्राइवर नवीन जाधव के नाम कर रखी है। इतना ही नहीं संपत्ति चालक नवीन किसी तरह हड़प न ले, इसके लिए ड्राइवर से हक त्याग का दस्तावेज भी बनवा रखा है। ड्राइवर के एक मुख्तारनामा भी लिखवाया गया है। नवीन के नाम 16 संपत्ति दर्ज है जो करोड़ों की है।

धार पुलिस ने फरार आरोपित सुधीर जैन व नवीन जाधव के बारे में जानकारी भेजी है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्य आरोपित सुधीर की करीब 11 जमीनें धार नगरीय क्षेत्र में मौजूद हैं। इसमें पांच मकान व प्लॉट मौजूद हैं। आरोपित सुधीर इन जमीनों का मालिक है। वहीं उसका वाहन चालक नवीन के नाम पर भी 16 रजिस्ट्रियां हैं। पुलिस ने दस्तावेजों में यह भी बात बताई है कि नौकर नवीन की सैलरी मात्र 8 हजार रुपये है। उसके निवास वाले मकान की रजिस्ट्री भी उसने अपने मालिक सुधीर के यहां पर गिरवी रखकर लोन ले रखा है। बता दें कि जनकल्याण के लिए मिली सेंट टेरेसा स्कूल कंपाउंड की करोड़ों रुपये कीमत की जमीन के मामले में पुलिस ने 28 नवंबर को 26 नामजद सहित एक संस्था को आरोपित बनाया था। मामले में पुलिस ने 18 लोगों को अब तक गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही मुख्य आरोपित सुधीर जैन सहित अन्य आरोपित फरार हैं। प्रकरण दर्ज होने के डेढ माह बाद भी आरोपित गिरफ्तार नहीं होने के चलते पुलिस अब फरार आरोपितों पर इनाम की राशि बढ़ाने जा रही है। इस प्रकरण में सुधीर पर 20 हजार व अन्य आरोपितों पर 10-10 हजार का इनाम घोषित था। ऐसे में अब इनाम 5 से 10 हजार रुपये तक और बढाया जाएगा। साथ ही प्रकरण से संबंधित सभी दस्तावेज सुप्रीम कोर्ट भेजे जा रहे हैं, जहां पर आरोपितों की जमानत अर्जी निरस्त करने को लेकर अर्जी दाखिल की जाएगी।

जानकारी भेज दी है

-पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने शनिवार को मीडिया को बताया कि पुलिस ने ईडी को जानकारी भेज दी है। इसमें मुख्य आरोपित सुधीर जैन व उसके चालक नवीन जाधव की जानकारी दी गई। चालक के नाम पर हमें 16 संपत्ति के विवरण के साथ एक हक त्याग का दस्तावेज भी मिला है। साथ ही एक मुख्तयारनामा भी मिला है। पुलिस अपनी जांच जारी रखेगी। आरोपितों को पकड़ने के लिए इनाम की राशि भी बढ़ाई जा रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local