धार। नगर के निजी गार्डन के सामने से 17 दिन पहले पिकअप वाहन चोरी हुआ था। पुलिस ने चोरी के उक्त मामले में तीन आरोपितों को पकड़ा है। पिकअप वाहन पर नंबर प्लेट नहीं लगी थी। वाहन के आगे की ओर ओम लिखा था। इसी आधार पर पुलिस वाहन की तलाश में लगी हुई थी। इसी के बाद पुलिस ने वाहन का उपयोग कर रहे युवक को पकड़ा। उसने वाहन खरीदने की बात बताई। साथ ही बेचने वाले का नाम बताया। इसके बाद पुलिस ने बेचने वाले को पकड़ा तो उसने चोरी करने वाले बदमाश का नाम बता दिया। पुलिस ने चोरी करने वाले बदमाश, बेचने व खरीदने वाले तीनों को आरोपित बनाते हुए गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। पुलिस ने ढाई लाख रुपये कीमत का वाहन भी जब्त कर लिया है।

टीआइ समीर पाटीदार ने बताया कि सचिन पाल ने 11 मई को रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि चार मई की रात को गार्डन पर इलेक्ट्रिक का सामान देने गया था। पिकअप वाहन एमपी-09 एलपी-4803 को गार्डन के बाहर खड़ा करके अंदर सामान देने गया था। कुछ देर बाद वापस आया तो वाहन गायब था। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की। मुखबिर से सूचना मिली कि चोरी का वाहन एजाज निवासी दत्त गली के पास देखा गया। पुलिस एजाज के घर पहुंची व पूछताछ की। एजाज ने कानवन निवासी सुरेश से उक्त वाहन 35 हजार रुपये में खरीदना बताया। एजाज कागज नहीं बता पाया। 20 हजार रुपये सुरेश को दिए थे। एक सप्ताह बाद कागज देने पर शेष 15 हजार रुपए देने की बात तय हुई थी। इसके बाद पुलिस ने सुरेश को गिरफ्तार किया। उसने चोरी का वाहन बेचने की बात कुबूल की। बताया कि वाहन मुकेश ने चोरी किया था। इसके बाद बड़नगर निवासी मुकेश को गिरफ्तार किया। पाटीदार के अनुसार मुकेश व सुरेश आदतन अपराधी हैं। इन पर पूर्व में भी अपराध दर्ज किए गए थे। आरोपित मुकेश ने 2020 में भी एक वाहन धार से चोरी किया था। कार्रवाई में एएसआइ हेमंत राजपुरोहित, मनीष सोलंकी का सहयोग रहा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close