बदनावर (नईदुनिया न्यूज)। ग्राम छायन के मजरे पिपलीपाड़ा में शुक्रवार को जमीन हांकने की बात पर जमकर विवाद हुआ। इसमें छह लोग घायल हो गए। घायलों में माता, पिता व बेटा भी शामिल हैं। इस संबंध में पुलिस ने पांच लोगों के विरुद्ध विभिन्ना धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है। दूसरी ओर कानवन पुलिस ने पिपलिया में कृषि भूमि पर कब्जा करने के प्रयास में विवाद करने पर दो लोगों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है।

फरियादी दिलीप पुत्र धन्नाालाल ने गणपत मिश्रीलाल, मिश्रीलाल रतन, मुकेश मुन्नाालाल, कमलाबाई गणपत एवं भारत मुन्नाालाल सभी निवासी छायन पिपलीपाड़ा के विरुद्ध दर्ज रिपोर्ट में बताया कि मेरा और गणपत का खेत पास-पास स्थित है। बीच में कच्चा रास्ता है। शुक्रवार सुबह गणपत ट्रैक्टर लेकर आया और जमीन हांकने लगा। इस पर मेरी मां ग्यारसीबाई ने बोला कि तू हमारी जमीन क्यों हांक रहा है तो वह चला गया। शाम को मेरे घर सभी आरोपित आए और बोले कि तेरी मां ने खेत क्यों नहीं हांकने दिया, कहकर गालियां दी। तलवार, लट्ठ व थप्पड़-मुक्कों से मेरे सहित पिता धन्नाालाल, मां ग्यारसीबाई, मेरे जीजा आनंदीलाल और बचाव करने आए मुकेश व नाथूलाल के साथ मारपीट की। बाद में डायल 100 से घायलों को उपचार के लिए यहां सिविल हास्पिटल लाकर भर्ती कराया गया।

पिपलिया में निजी भूमि पर कब्जा करने पर दो पर प्रकरण दर्ज

इधर, ग्राम पिपलिया में निजी भूमि पर कब्जा करने की नीयत से तार फेंसिंग उखाड़कर नुकसान पहुंचाने पर कानवन पुलिस ने दो लोगों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया है। फरियादी वैभव विजयकुमार जैन निवासी बदनावर ने पुलिस रिपोर्ट में बताया कि उसकी कृषि भूमि ग्राम पिपलिया स्थित है। खेत के पास ही ग्राम झरीपाड़ा निवासी संजय व झमक जाट की कृषि भूमि है। 13 मई की रात को दोनों ने मेरे खेत में बाउंड्री पर लगे पोल एवं तार फेंसिंग उखाड़कर नुकसान पहुंचाया। जब इस बारे में दोनों से बात की तो उन्होंने 10 लाख रुपये की मांग करते हुए मेरे साथ गालीगलौज की तथा जान से मारने की धमकी दी। गौरतलब है कि कृषि भूमि में से पांच बीघा खेत की तार फेंसिंग उखाड़कर जबरन जमीन हड़पने के आरोप में गत 15 मई को ग्राम बखतगढ़ निवासी अर्चना पोरवाल ने भी कानवन पुलिस को शिकायती आवेदन दिया था।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close