राजगढ़-बड़ौदिया। नईदुनिया न्यूज। भूजल स्तर गिरने के कारण ग्राम बड़ौदिया में जलसंकट गहराया गया है। इसको लेकर नईदुनिया ने समाचार प्रकाशित होने के बाद रविवार को पीएचई अधिकारी पेयजल समस्या के निदान के लिए गांव में पहुंचे। जल जीवन मिशन योजना के तहत कुआं खनन प्रारंभ कराया गया। पेयजल टंकी निर्माण के लिए स्थान का चयन किया है। गत दिनों खनन कराए गए ट्यूबवेल में मोटर डालने की बात कही है।

बड़ौदिया में पेयजल संकट को लेकर रविवार को नईदुनिया के अंक में 'भूजल स्तर गिरने से ट्यूबवेल ने छोड़ा साथ' शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। इसका असर हुआ और रविवार को अवकाश होने के बावजूद पीएचई विभाग के सहायक कार्यपालन यंत्री नवलसिंह भूरिया पेयजल निदान के लिए बड़ौदिया पहुंचे। गांव में डेढ़ करोड़ की लागत से जल जीवन मिशन के तहत पोकलेन मशीन से कुआं खनन कार्य प्रारंभ कराया। पेयजल टंकी निर्माण स्थल को लेकर कुछ ग्रामीणों द्वारा विवाद किया जा रहा था। जिसे हल कराते हुए स्थान का चयन भी किया गया।

सप्ताहभर में डलेगी मोटर

करीब एक पखवाड़े पूर्व गांव में पेयजल समस्या के निदान के लिए ट्यूबवेल खनन कराया गया था, लेकिन मोटर नहीं होने के कारण ग्रामीणों को पानी नहीं मिल पा रहा है। रविवार को मौका मुआयना के दौरान सहायक कार्यपालन यंत्री भूरिया ने कहा कि मोटर के लिए आर्डर दे दिया है। जल्द ही ट्यूबवेल में मोटर डाल दी जाएगी।

इधर, पोसिया में मिलने लगा पेयजल

गत दिनों पोसिया पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को ग्रामीणों ने पेयजल संकट से अवगत कराया था। इसके बाद कलेक्टर के निर्देशन में गांव में ट्यूबवेल खनन कराकर बिजली समस्या समाधान के लिए ट्रांसफार्मर लगवाया गया था। बिजली समस्या हल होने के बाद ग्रामीणों के घरों में नल के माध्यम से पानी पहुंचने लगा है।

कार्य प्रारंभ करवा दिया है

जल जीवन मिशन के तहत बड़ौदिया में कार्य प्रारंभ करवा दिया गया है। एक-दो दिन में पेयजल टंकी का निर्माण भी प्रारंभ हो जाएगा। गत दिनों खनन कराए गए ट्यूबवेल में सप्ताहभर में मोटर डलवा दी जाएगी। मोटर के लिए आर्डर दिया गया है।

नवलसिंह भूरिया, सहायक कार्यपालन यंत्री, पीएचई विभाग सरदारपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close