केसूर (नईदुनिया न्यूज)। केसूर-बड़नगर मार्ग पर ग्राम ढोलाना में 1980 में सेतु निगम ने पुलिया बनवाई थी। समय के साथ अब यह पुलिया क्षतिग्रस्त होने लगी है। हालत यह हो गई है कि पुलिया पर हुए गड्ढों से अब आर-पार दिखने लगा है। जल्द ही ठोस हल नहीं निकाला गया तो यह पुलिया किसी की जान भी ले सकती है।विभाग ने फिलहाल गड्ढों के आसपास पत्थर रखकर बचाव का इंतजाम किया है, लेकिन जल्द ही पुलिया का निर्माण नहीं हुआ तो यह खतरनाक हो सकता है।

केसूर-बड़नगर मार्ग का निर्माण हाल ही में करोड़ों रुपये की लागत से करवाया गया है। मार्ग निर्माण के दौरान इस पुलिया का निर्माण नहीं किया गया है। जबकि यह पुलिया 42 वर्ष पुरानी हो चुकी है। इस पर हुए गड्ढों से अब आर-पार नजर आने लगा है। ग्राम के दिनेश गोस्वामी, विनोद जोशी आदि ग्रामीणों ने बताया कि मार्ग पर रोजाना सैकड़ों वाहन निकलते हैं। बसों से लेकर स्कूली वाहनों से विद्यार्थी इसी मार्ग से गुजरते हैं। ऐसे में यदि कुछ अनहोनी होगी तो उसका जवाबदार कौन होगा। जोशी ने बताया कि भंवरसिंह शेखावत जब क्षेत्र के विधायक थे, उस समय भी इस पुलिया की पूरी स्लैब बनाने के लिए प्रस्ताव बनाया गया था। उसके बाद इस दिशा में कोई कार्य नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि मशीनों से पुलिया के पिलर की जांच की गई थी। इसमें यह बिल्कुल सही मिले हैं, किंतु ऊपर की स्लैब नई बनाना जरूरी हो गया है। उन्होंने कहा कि इस पुलिया से भारी वाहनों का आवागमन कैसे रोका जाएगा, यह भी बड़ा सवाल है।

प्रस्ताव बनाकर भोपाल भेजा है

मैं मौके पर गया था। फिलहाल अधिक समय तक पुलिया से भारी वाहन नहीं निकल सकते हैं। पुलिया की मरम्मत के लिए करीब 95 लाख रुपये का प्रस्ताव बनाकर उच्च अधिकारियों को भोपाल भेजा है। वहां से स्वीकृति मिलने के बाद ही निर्माण हो सकेगा। फिलहाल भारी वाहन का आवागमन रोका जाएगा।-गिरीश जोशी, एसडीओ सेतु निगम इंदौर संभाग

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close