राजगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। लंबे समय से निर्माणाधीन आदर्श सड़क का काम अब भी अधूरा ही है। नतीजा यह है कि आम लोग परेशान हो चुके हैं। शासकीय अस्पताल से मंडी गेट तक हालात बद से बदतर हो चले हैं। दरअसल, यहां से आने-जाने के लिए एक ही पट्टी का इस्तेमाल हो रहा है। सड़क पूरी तरह से उखड़ जाने की वजह से अब धूल के गुबार हर वक्त राहगीरों सहित दुकानदारों व रहवासियों के लिए मुसीबत बन चुके हैं। अब हर कोई सिर्फ एक ही सवाल पूछ रहा है कि आखिर यह निर्माण कार्य कब पूर्ण होगा। लोगों की चिंता इसलिए भी है क्योंकि बरसात का मौसम सिर पर खड़ा हैं। बरसात आरंभ हो जाने के बाद से इस पट्टी से निकलना मुश्कित हो जाएगा। उधर, कुक्षी नाके से बस स्टैंड तक दूसरी पट्टी का काम भी धीमी गति से ही चल रहा है। इसके चलते नगर परिषद ने एक बार फिर नोटिस जारी कर दिया है। इसकी पुष्टि करते हुए सीएमओ देवबाला पिपलोनिया ने बताया कि शासकीय अस्पताल से मंडी गेट तक का निर्माण कार्य चल रहा है। जहां तक दूसरी एक पट्टी से यातायात निकलने की बात हैं तो वाहन आसानी से निकल सकते हैं लेकिन सड़क के बड़े हिस्से तक कई लोग अपने वाहन आदि रख देते हैं, ऐसे में आम लोगों को परेशानी होती है। इसका निदान भी जल्द ही करवा दिया जाएगा।

कलेक्टर की हिदायत भी नहीं आ पाई काम

गौरतलब है कि आदर्श सड़क के मामले में काफी समय पहले कलेक्टर डा. पंकज जैन से लेकर तत्कालीन सीएमओ बीएस कलेश तक ने ठेकेदार को काम जल्द से जल्द और गुणवत्तापूर्ण करने की हिदायत दे दी थी। इसका नतीजा सिफर ही रहा। अब नगर परिषद नोटिस पर नोटिस जारी कर रही है लेकिन उसका भी असर होता नजर नहीं आ रहा।

यह आ रही है सबसे ज्यादा परेशानी

कुक्षी नाके से बस स्टैंड तक फिलहाल यातायात के आवागमन के लिए नए सीसी रोड़ की एक पट्टी का इस्तेमाल जरूर हो रहा है लेकिन बड़े वाहनों के आमने-सामने आ जाने से बड़ा जाम लग जाता है। इसे खुलने में समय लगता है। बहरहाल, दोपहिया और छोटे चार पहिया वाहन चालकों सहित जाम लगने से रहवासी भी परेशान होते हैं।

सबसे बड़ा सवाल इस पूरे आदर्श सड़क में अब यह उठ रहा है कि सीधे काम में जहां इतना वक्त लग रहा है तो आखिर मानव सेवा शासकीय अस्पताल से नए बस स्टैंड तक सड़क बनने में आखिर कितना समय लग जाएगा। गौरतलब है कि यहां पर यातायात दवाब हर वक्त बना रहता है। बारिश में भी यहां पर पानी भर जाता है। ऐसे में ना सिर्फ निर्माण कार्य प्रभावित होगा बल्कि निर्माण शुरू भी हो पाएगा या नहीं इसमें ही विषय है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close