धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिलेभर में एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लग रहा है। इस प्रतिबंध को लेकर नगर पालिका आमजनों से लेकर व्यापारी वर्ग को समझाइश दे रही है। गुरुवार को नपा की टीम शहर की सड़कों पर निकली और दुकानदारों को एक जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक प्रतिबंध को लेकर जानकारी दी। साथ ही प्लास्टिक से होने वाले दुष्परिणाम बताया। दुकानदारों को कहा गया कि अब प्लास्टिक का उपयोग करते हुए पाए गए तो सख्ती से कार्रवाई होगी। इधर शाम को नगर पालिका में सीएमओ निशिकांत शुक्ला ने व्यापारी वर्ग के साथ बैठक ली। बैठक में व्यापारियों को सिंगल यूज प्लास्टिक प्रतिबंध की जानकारी दी। साथ ही सहयोग करने की अपील की गई है। इधर जिले भर में चिंताजनक हालात है। इसका कारण यह है कि प्रतिबंध लगने के एक दिन पहले तक बड़ी मात्रा में प्लास्टिक बिक रहा था।

गौरतलब है कि सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध को लेकर लंबे समय से कवायद चल रही थी। इसमें अब शुक्रवार से प्रतिबंध होगा। शहर में कई बार देखा गया है कि प्लास्टिक का पशुओं द्वारा सेवन कर लिया जाता है जिससे उनकी मौत भी हुई है। वहीं कई तरह के दुष्परिणाम भी सामने आए हैं। इसी को देखते हुए शासन अब प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा रहा है। प्लास्टिक के झंडे, थर्माकोल की सामग्रियां, प्लास्टिक के कप, गिलास, प्लेट, कांटे, चम्मच, चाकू, मिठाई के डिब्बों पर लपेटने वाली प्लास्टिक फिल्में, निमंत्रण कार्ड, 100 माइक्रोन से कम मोटाई वाले प्लास्टिक, पीवीसी बैनर, प्लास्टिक स्टीकर जैसी सामग्री अब प्रतिबंधित हो गई है।

स्टाक खत्म कर दिया

नगर पालिका में सीएमओ निशिकांत शुक्ला ने व्यापारी वर्ग के साथ बैठक ली। इसमें उन्होंने व्यापारियों को कहा है कि आप लोगों के पास अगर प्लास्टिक का स्टाक है तो उसे या तो कंपनी से बात कर लौटा दें। अगर अब आप प्लास्टिक का यूज करते हुए पाए जाते हैं तो यह मत समझना कि यह सामान्य तौर की कार्रवाई होगी। अब सिंगल यूज प्लास्टिक को लेकर हम सख्ती से कार्रवाई करेंगे। यह प्लास्टिक मनुष्य और पशुओं के लिए काफी नुकसानदायक है। शासन प्रतिबंध लगा रहा है तो आप लोगों को भी इसमें समर्थन करना चाहिए। व्यापारियों का कहना था कि लंबे समय से हमारे पास खबरें आ रही थीं कि प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगने वाला है। इसलिए हमने हमारा अधिकतर माल का स्टाक खत्म कर दिया है। अब हम आगे से प्लास्टिक का उपयोग नहीं करेंगे।

फैक्ट्रियों पर प्रतिबंध लगवाएं

कुछ व्यापारियों ने कहा कि आप निर्माण करने वाली फैक्ट्रियों पर प्रतिबंध लगवाएं। प्रोडक्शन नहीं होगा तो माल बाजार में नहीं आएगा। सीएमओ ने कहा कि फैक्ट्रियों में कई तरह का काम होता है जो प्रतिबंधित है। आप उनके पार्ट की बात मत करो। अपना पार्ट निभाइए। संकल्प लीजिए कि धार में प्लास्टिक नहीं आएगा। फैक्ट्रियां खुद प्रोडक्शन करना बंद कर देंगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close