धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में नगर पालिका पानी की टंकी की सफाई का विशेष अभियान चला रही है। गुरुवार से अभियान की शुरुआत हो चुकी है। पशु चिकित्सालय स्थित पानी की टंकी की सफाई करवाई गई। वहीं आगामी दिनों में अन्य क्षेत्रों में भी पानी की टंकी की सफाई होगी। साथ ही फिल्टर प्लांट पर भी विशेष अभियान के तहत सफाई होगी। टंकियों की सफाई होने से शहर वासियों को मटमैले पानी से मुक्ति मिलेगी। सालों से टंकी की सफाई नहीं होने के कारण गाद जम गई है जिसे अब साफ किया जा रहा है।

इन दिनों मानसून का आगमन तो हो गया है पर पर्याप्त मात्रा में वर्षा नहीं होने के कारण तालाब में पानी की आवक अभी शुरू नहीं हुई है। तालबों में अब कुछ दिनों का ही पानी बचा हुआ है। तालाब के अंतिम छोर से नगर पालिका पानी लेने का कार्य कर रही है। इससे कुछ दिनों से शहर में मटमैला पानी सप्लाई किया जा रहा है जिसकी शिकायत शहर के आम लोगों ने की। शिकायत को देखते हुए नगर पालिका सीएमओ निशिकांत शुक्ला ने सफाई अभियान चलाया। गत दिवस अभियान को लेकर पीएई शाखा के कर्मचारियों के साथ बैठक कर उन्हें दिशा निर्देश दिए हैं। गुरुवार से सफाई का कार्य शुरू हो चुका है।

शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में कुल 11 टंकियों से पानी सप्लाई किया जाता है। इसमें पशु चिकित्सालय, नालछा दरवाजा, पुरानी नगर पालिका, किले के नीचे, किले के ऊपर, कलेक्ट्रेट, हवाबंगला, खंडेराव, धारेश्वर, सिल्वरहिल्स, दीनदयाल पुरम में टंकी है। साढ़े तीन लाख लीटर से लेकर साढ़े सात लाख लीटर तक की क्षमता वाली टंकी है। सालों से सफाई नहीं होने के कारण गाद जम गई थी। इसमें अब कर्मचारी टंकी के अंदर उतरकर टंकी को पूरी खाली करने के बाद उसकी गाद निकाल रहे हैं। गाद निकालने के बाद एक बार फिर पानी डालकर उसे दौबारा धोया जा रहा है। इस पूरी प्रक्रिया में एक दिन का समय लग रहा है। इस वजह से जिस क्षेत्र में टंकी की सफाई हो रही है। उस क्षेत्र में एक दिन की जल आपूर्ति प्रभावित हो रही है।

टंकियों की सफाई शुरू हो चुकी है वहीं आगामी दिनों में फिल्टर प्लांट की सफाई भी की जाएगी। इसमें प्लांट के पानी को पूरा खाली करने के बाद उसने जमी हुई गाद को निकाला जाएगा। इसके बाद पूरे प्लांट को एक बार फिर पानी से धोने के बाद पूरा पानी बाहर निकाला जाएगा। इस प्रक्रिया में एक दिन पूरे शहर का जल सप्लाई प्रभावित होगा। दिन में प्लांट की सफाई होगी वहीं रात में दोबारा प्लांट में पानी भरकर पानी को फिल्टर करने का कार्य शुरू किया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close