धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। ग्राम सरकार चुनने के लिए तीसरे और अंतिम चरण का चुनाव आठ जुलाई को होने जा रहा है। इसके लिए पुलिस और प्रशासन ने विशेष इंतजाम किए हैं। सरदारपुर, नालछा, धार और तिरला विकासखंड में चुनाव होने जा रहे हैं। इसमें जिला पंचायत के 10 वार्ड शामिल हैं। साथ ही जनपद पंचायत के 71 वार्ड शामिल हैं जबकि 266 ग्राम पंचायतों के सरपंचों का भी निर्वाचन होना है। इसके लिए बड़ी संख्या में मतदाताओं को मताधिकार प्राप्त है। वहीं इस चुनाव के लिए 865 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। इस तरह से 8 जुलाई के चुनाव के लिए व्यापक तैयारी की गई है। सुबह 7 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक होने वाले मतदान का समय तीसरे चरण में भी कम पड़ सकता है। ऐसे में प्रशासन ने सारे इंतजाम कर लिए हैं।

बता दें कि यह चुनाव नतीजे राजनीतिक दलों के लिए महत्वपूर्ण हैं। यहां से यदि भाजपा या कांग्रेस की बढ़त रहती है तो यह तय होगा कि कौन सी पार्टी समर्थित जिला पंचायत अध्यक्ष चुना जाएगा। हालांकि अभी दोनों ही पार्टियों के दावे बराबरी के हैं। लेकिन नतीजे घोषित होने के बाद ही सारी स्थिति स्पष्ट होगी। जिले के 13 विकासखंडों में से 9 विकासखंडों में चुनाव हो चुके हैं। इसमें प्रथम और द्वितीय चरण में मतदान की प्रक्रिया की गई। साथ ही गणना भी कर ली गई है। अब इन दो चरणों के नतीजे 14 और 15 जुलाई को घोषित होना है। तीसरे चरण के लिए प्रचार एक दिन पहले ही थम चुका है। सरदारपुर, नालछा, धार तथा तिरला विकासखंड में मतदाताओं को रिझाने के लिए राजनीतिक दलों से समर्थित लोगों ने विशेष प्रयास किए हैं। इसमें बड़े स्तर पर राजनेताओं ने भी अपनी ताकत लगाई है। बता दें कि जिले के वार्ड क्रमांक 14 में इस बार राजनीतिक उठापटक ज्यादा है। यहां पर कांग्रेस ने जिला कांग्रेस अध्यक्ष बालमुकुंद सिंह गौतम के भाई व जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष मनोज सिंह गौतम को कांग्रेस समर्थित उम्मीदवार के तौर पर मैदान में उतारा है जबकि भाजपा ने हिंदू नेता निर्भय सिंह पटेल को अपना उम्मीदवार बनाया है। यहां दलगत चुनाव नहीं हो रहे, केवल पार्टी का समर्थन ही मिल रहा है। यहां पर इन दोनों के बीच में टक्कर तो है, वहीं अन्य उम्मीदवार भी मैदान में बहुत चुनौतीपूर्ण स्थिति लेकर बने हुए हैं। यहां पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जा रहा है। यहां पर मामूली विवाद की स्थिति पहले भी हो चुकी है। हाल ही में चुनाव के दौरान कुछ विवाद थाने तक भी पहुंचा है। आखिरी चरण में 10 जिला पंचायत सदस्यों के वार्ड के चुनाव हैं। 10 में से 6 सदस्य जो पार्टी लाती है वह निर्णायक रहेगा। इसी वार्ड से जिला पंचायत के अध्यक्ष का पद भी मिल सकता है। इसकी एक वजह यह भी है कि इस बार जिला पंचायत अध्यक्ष आरक्षण की स्थिति में अनारक्षित वर्ग के लिए है।

- जिला पंचायत के 10 वार्ड शामिल।

-जनपद पंचायत के 71 वार्ड शामिल।

-266 ग्राम पंचायतों के सरपंचों का निर्वाचन होना है।

- 865 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

अंतिम चरण की स्थिति

नालछा ब्लाक

- 2 जिला पंचायत वार्ड।

- 21 जनपद सदस्य वार्ड।

- 67 ग्राम पंचायत।

- 812 पंच वार्ड।

- 108672 कुल मतदाता।

धार ब्लाक

- 2 जिला पंचायत वार्ड।

- 18 जनपद सदस्य वार्ड।

- 52 ग्राम पंचायत।

- 685 पंच वार्ड।

- 85916 कुल मतदाता।

तिरला ब्लाक :

- 2 जिला पंचायत वार्ड।

- 14 जनपद सदस्य वार्ड।

- 52 ग्राम पंचायत।

- 593 पंच वार्ड।

- 73255 कुल मतदाता।

सरदारपुर ब्लाक

- 4 जिला पंचायत वार्ड।

- 25 जनपद सदस्य वार्ड।

- 95 ग्राम पंचायत।

- 1415 पंच वार्ड।

- 207825 कुल मतदाता।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close