राजगढ़-नागदा (धार) (नईदुनिया न्यूज)। 75 बरस पहले अंग्रेजों की गुलामी से आजाद होने के बाद पूरा भारत आजादी का अमृत महोत्सव धूमधाम से मना रहा है। जैन समाज भी 14 अगस्त को 1500 से अधिक मंदिरों को गंदगी से आजाद करने के लिए संकल्पित हुआ है। आजादी के एक दिन पहले होने वाले इस शुद्धिकरण अभियान में हजार या दो हजार नहीं, बल्कि 12 हजार से अधिक श्रद्धालु सेवाएं देंगे।

मध्यप्रदेश सहित राजस्थान, उत्तराखंड, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड, छत्तीसगढ़ व देश के कई हिस्सों में बने भव्य जैन मंदिरों में यह अभियान एक ही दिन और एक ही समय पर आरंभ होगा। यह अभियान 12 वर्ष पहले मालव भूषण तप शिरोमणी आचार्यश्री नवरत्नसागर सूरीश्वरजी की प्रेरणा से प्रारंभ हुआ था, जो अब युवाचार्यश्री विश्वरत्नसागर सूरीश्वरजी के मार्गदर्शन में संचालित हो रहा है।

सात हजार रुपये तक की सामग्री दी निश्शुल्क

श्री जैन श्वेतांबर मालवा महासंघ एवं नवरत्न परिवार द्वारा किए जाने वाले इस कार्य के लिए सभी 1500 से अधिक चिन्हित जिनालयों को सात-सात हजार रुपये की शुद्धिकरण सामग्री निश्शुल्क उपलब्ध कराई जाती है। नवरत्न परिवार के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश जैन डग ने बताया कि एक अगस्त से ही मंदिरों में शुद्धिकरण सामग्री पहुंचाना आरंभ कर दिया गया था।

औषधियों से साफ होती है प्रभु की प्रतिमा

मालवा महासंघ के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष संतोष मेहता ने बताया कि शुद्धिकरण के तहत मंदिर के ध्वज से लेकर छोटी से छोटी वस्तु की सफाई की जाती है। वहीं भगवानजी की प्रतिमाओं की औषधियों से सफाई की जाती है। शुद्धिकरण के साथ ही मंदिर के लिए उपयोगी सामग्री भी किट में प्रदान की जाती है। साथ ही पुजारी के लिए एक वेशभूषा एवं तय मानदेय भी दिया जाता है।

यह दिया जाता है किट में

शुद्धिकरण के लिए मंदिरों को पाट लुछना, अंगलुछना, नेपकीन, वडी खड़ी पावडर, पितांबरी, आवला, शिकाकाई, अरिठा, वाशिंग पावडर, ब्रास, वासक्षेप, धूप, कपूर, मारपिछी, पुजंणी, वाडाकुंचि, नलथैली, सुखड प्योर, प्लास्टिक ब्रास, नाड़ा छड़ी, तिलक सली, तांबे की सली, दूध की छलनी, गलना, चामर, स्तवन बुक, सामग्री पैकिंग व कवर उपलब्ध कराया जाता है।

धार। शहर के छह श्वेतांबर जैन मंदिरों में जिनालय शुद्धिकरण अभियान चलाया जाएगा। साध्वी दमिताश्री एवं पद्मलता आदि ठाणा की निश्रा में जिनालय शुद्धिकरण किया जाएगा। नवरत्न परिवार के राष्ट्रीय संगठन मंत्री प्रवीण गुप्ता ने बताया कि शुद्धिकरण की किट सभी 1500 जिनालयों में नवरत्न परिवार के कार्यकर्ताओं द्वारा बांटी जा चुकी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close