धार (नईदुनिया प्रतिनिधि)। स्वामी विवेकानंद जयंती पर हिंदू जागरण मंच द्वारा हिंदू संसद का आयोजन किया गया। हिंदू संसद को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के मुख्य वक्ता और हिंदू जागरण मंच मालवा प्रांत के प्रांतीय संगठन मंत्री राजेश भार्गव ने कहा कि हिंदुओं को अपना अस्तित्व बचाकर रखना होगा। उन्हें लैंड जिहाद और स्वावलंबन पर ध्यान देना होगा।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि भारतीय सेना के रिटायर्ड कर्नल मनोज बर्मन, विशेष अतिथि समाजसेवी एवं व्यवसायी योगेश अग्रवाल थे। अध्यक्षता डॉ. सुमित सिसौदिया ने की। हिंदू संसद को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता भार्गव ने कहा कि लैंड जिहाद के जरिए वक्फ बोर्ड और मुस्लिम संगठनों ने देश में गैरकानूनी तरीके से जमीनें हथियाई है। जिन्हें वापस लेना है। जहां भी धर्म के नाम पर मुस्लिमों को जमीन हथियाते देखें उन्हें रोकें, टोकें। लव जिहाद के बारे में उन्होंने कहा कि हमें इस जिहाद को पूरी ताकत से रोकना होगा। मुस्लिम समाज के युवा अपना नाम बदलकर हिंदूओं की बहन-बेटियों को बहला फुसलाकर मुस्लिम बना रहे हैं क्योंकि ऐसा करने पर उन्हें उनके समाज से इनाम मिलता है। जबकि हमारे समाज में यदि कोई ऐसा करता है, तो सबसे पहले उसका बहिष्कार उसके घर से ही होता है। स्वावलंबन पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि हम अपने मूल कामकाज और धंधों से दूर हो गए। अब ऐसे काम करके स्वावलंबी बनाना होगा।

मुख्य वक्ता ने कहा कि इस देश में रहने वाला हर व्यक्ति भारतीय होने के साथ हिंदू भी है। इस धार नगर में राजा भोज के वंशज भी रहते थे। भोजशाला में मुझे कोई ऐसी वस्तु नहीं दिखी जिस पर मैं गर्व कर सकूं। स्वामी विवेकानंद ने सबसे पहले हमें अपने हिंदू होने पर गर्व करना सिखाया। जब देश में लोग खुद को एक्सीडेंटली हिंदू कहते थे, तब उन्होंने ही कहा था कि गर्व से कहो हम हिंदू हैं।

मुख्य अतिथि भारतीय सेना के रिटायर्ड कर्नल मनोज बर्मन ने कहा कि हिंदू जन्म से ही हिंदू पैदा होता है। उसे हिंदू बनने के लिए किसी आडंबर की जरूरत नहीं होती। जबकि अन्य सभी धर्मों में ऐसा नहीं होता। आज जो हिंदुओं की स्थिति है। उसका कारण यह है कि हिंदुओं ने अपने हिंदू होने के स्वाभिमान को भुला दिया। भारत की धरती पर कुछ तो विशेष है, जो कई धर्मों के गुरु इस धरती पर पैदा हुए। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने आत्मीय सुख की खोज के लिए अपना पूरा जीवन लगा दिया। हम जिस सुख की अनुभूति करते हैं, वो सिर्फ शारीरिक और इंद्रिय सुख होता है।

अध्यक्षता करते हुए डॉ. सुमित सिसौदिया ने कहा कि हमें अपने धर्म को लेकर जागरूक होना पड़ेगा। ऐसी ताकतों के प्रति सजगता बरतना होगी जो देश की एकता और अखंडता को नुकसान पहुंचाती हैं। हमारी जागरूकता ही हमारा भविष्य बेहतर बना सकती है। क्योंकि विघटनकारी शक्तियां धर्म की आड़ में ही अपना स्वार्थ सिद्ध करती हैं। इन चुनौतियों का सामना सक्रियता और स्वाभिमान से ही संभव है।

कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथि परिचय के साथ दीप प्रज्वलन किया गया। सभी अतिथियों का स्वागत कर उन्हें प्रतीक चिंह भेंट किए गए। कार्यक्रम के प्रारंभ में विशेष अतिथि योगेश अग्रवाल ने कहा कि हमने धार में बहुत अत्याचार झेला है। संघर्ष के बाद हमें अत्याचारों से मुक्ति मिली। हिंदू जागरण मंच के जिला अध्यक्ष हरिसिंह रघुवंशी भी इस आयोजन में उपस्थित थे। संचालन एकता शर्मा ने किया।

अतिथियों का स्वागत नगर बेटी बचाओ प्रमुख हेमंत प्रजापत एवं ललित डोड ने किया जबकि अतिथि परिचय जिला बेटी बचाओ प्रमुख सोनू गायकवाड़ ने दिया। एकल गीत 'हिंदू जगेगा विश्व जागेगा' जिला मंत्री लोकेश यादव ने प्रस्तुत किया। गीत 'हम करें राष्ट्र आराधन' गौरव मौर्य ने प्रस्तुत किया। कल्याण मंत्र नगर महामंत्री प्रेम रनोजा ने प्रस्तुत किया। आभार जिला स्वालंवन प्रमुख महेश बघेल ने माना।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस