- पुनर्वास स्थल में आयोजित बैठक में एसडीएम ने की नई पहल, ग्रामीणों ने किया स्वागत

सुसारी/निसरपुर (नईदुनिया न्यूज)। ग्रामीणों के बीच बैठकर ही समस्याओं का हल सही व उचित तरीके से किया जा सकता है, न कि कार्यालय में बैठकर। वर्तमान में पुनर्वास व डूब में जो समस्या है, उनका हल पुनर्वास स्थलों पर बैठक व ग्रामीणों से चर्चा कर तथा मौके का निरीक्षण कर निकाला जाएगा।

यह बात एसडीएम विवेक कुमार ने निसरपुर ब्लॉक के दूसरे सबसे बड़े पुनर्वास स्थल कड़माल में गुरुवार को आयोजित बैठक में कही। पुनर्वास स्थल के रहवासियों ने उनकी इस नई पहल का स्वागत किया है। पंचायत भवन के प्रांगण में आयोजित बैठक रहवासियों की समस्याओं के निराकरण के लिए रखी गई थी। भूअर्जन अधिकारी जानकी यादव, एनवीडीए लोनिवि के कार्यपालन यंत्री राजेंद्र गुप्ता, नायब तहसीलदार अनिल बघेल, जनपद सीईओ एस. माधवाचार्य, एनवीडीए लोनिवि एसडीओ आरवी सिंह, एनवीडीए, विद्युत कंपनी के एसडीओ वीके पारदी, राजस्व विभाग के आरआई चिराग परमार आदि मौजूद थे।

बैठक में ग्रामीण जगदीश पटेल व विजय मरोला ने बताया कि अब भी कड़माल में 10 ऐसे परिवार हैं, जिन्हें 5 लाख 80 हजार की राशि दे दी गई है, पर पुनर्वास स्थल पर प्लाट नहीं दिया गया है। डूब में जो खलिहान हैं, उनके मुआवजे के लिए पंचनामे बनाकर उनकी जांच की जाए। कड़माल बसाहट में डूब के गांव में रहने वाले को प्लाट चेंज कर, जो रहना चाहे, उसे दिए जाए। अभी ग्राम खापरखेड़ा के लोगों को प्लाट दिए जा रहे हैं। जबकि प्राथमिकता कड़माल वालों की है। डूब के गांव कड़माल में कुछ मकान को पात्र नहीं माना है, उनका भी निराकरण किया जाए।

पानी नहीं आता, सड़क बत्ती बंद, नालियों का निर्माण अधूरा

पुनर्वास स्थल के रहवासी नारायण कनेरा व मुकेश निगवाल ने बताया कि एक वॉल्व व एक पेयजल पाइप लाइन से इतनी बड़ी बसाहट में पानी नहीं आ रहा है। ऐसे में एक अतिरिक्त लाइन डाली जाए। मोहन पचाया व शिवराम पाटीदार ने बताया कि कुछ स्थानों पर सड़क बत्ती बंद है, उसे दुरुस्त करने के साथ अधूरी पड़ी नालियों के कार्य पूर्ण किए जाए। डूब से बाहर खेतों के रास्ते डूब गए हैं, उनका जल्द ही निर्माण किया जाए।

निरीक्षण कर दिए समस्या हल करने के निर्देश

ग्रामीणों से चर्चा के बाद एसडीएम विवेक कुमार ने बसाहट का निरीक्षण किया। कड़माल के स्कूल ग्राउंड की बाउंडी बनवाने की बात। अधूरी नालियों का निर्माण पूर्ण करने तथा बंद स्ट्रीट लाइट चालू करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। अन्य समस्याओं का भी निराकरण करने की बात कही। इसके बाद ग्राम पंचायत भवन में सभी विभागों के साथ बैठक हुई। एसडीएम ने कहा कि एक सप्ताह बाद बैठक यहीं रखी जाएगी, जो कार्य जिन्हें करने के निर्देश दिए हैं, उसकी समीक्षा की जाएगी। ग्रामीणों ने पहल पर एसडीएम व अधिकारियों का आभार माना।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस