धार। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व सीएम कमल नाथ मंगलवार सुबह धार जिले के धरमपुरी तहसील में कारम बांध फूटने से बने हालात का जायजा लेने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने बांध फूटने से प्रभावित हुए ग्रामीणों से भी मुलाकात की। कमल नाथ ने कहा कि केवल फसल की क्षति नहीं हुई है, पत्थर आने से खेती की जमीन खराब हुई और मकान भी क्षतिग्रस्त हो गए। नुकसान की भरपाई के लिए भी अभी चर्चा हो रही है, सर्वे हो रहा है। जो आंखों से दिख रहा है उसमें किस बात का सर्वे।

कमल नाथ ने कहा कि भाजपा के भ्रष्टाचार के कारण कोरम बांध फूटा है। पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार की दीमक लगी हुई है, जिसका सबसे बड़ा उदहारण हमारे सामने आया है। भाजपा में पंचायत से लेकर मंत्रालय तक भ्रष्टाचार की व्यवस्था की है। जिससे मध्य प्रदेश का भविष्य खतरे में है। आपदा प्रबंधन के नाम पर इवेंट कर जनता का ध्यान मोड़ने की कोशिश की गई, लेकिन सच्चाई सभी के सामने है।

Koo App

आज मध्यप्रदेश के धार ज़िले के कारम नदी पर क्षतिग्रस्त हुए बांध का अवलोकन किया। जिले की धरमपुरी तहसील के दूधी गांव में पहुंच कर प्रभावित ग्रामीणजनो से मुलाक़ात की, हालातों की वास्तविकता जानी। प्रभावित किसानो ने बताया कि उनकी फसल बह गयी, घर बह गया, मिट्टी बह गयी। बड़े-बड़े पत्थर बहकर खेतों में आ गये है, अब खेती भी नहीं कर सकते है। अभी भी घर छोड़कर पहाड़ों में, जंगलो में रह रहे है। कोई हाल जानने अभी तक नहीं आया, कोई सर्वे नहीं, कोई मुआवज़ा नहीं..

- KamalNath (@officeofknath) 16 Aug 2022

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close