-ठंड बढ़ते ही सक्रिय मरीजों की संख्या लगी बढ़ने

अश्विन बक्शी

देवास(नईदुनिया)। ठंड बढ़ने के साथ ही जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या भी बढ़ने लगी है। पिछले 13 दिनों में दोगुना से भी अधिक सक्रिय मरीज हो चुके हैं। 10 नवंबर को जिले में 34 सक्रिय मरीज थे, जो अब बढ़कर 82 हो चुके हैं। सैंपल संख्या बढ़ाने के बाद हर रोज पॉजिटिव मरीजों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है।

सर्दी के मौसम में ठंड से पर्याप्त बचाव न होने के कारण सर्दी-खांसी सहित श्वसन संबंधित समस्या व मौसमी फ्लू के मरीज भी आ रहे हैं। इससे बचाव जरूरी है। कोरोना व मौसमी बुखार के लक्षण एक से होने से इसे पहचानने में लोगों को दिक्कत हो रही है। सामान्य सर्दी-खांसी व वायरल फीवर समझकर लोग घर पर ही इलाज करते हैं। ऐसे में यह खतरनाक हो सकता है। श्वसन, हृदय रोग से ग्रस्त लोगों, बुजुर्गों या बच्चों को अधिक समस्या हो सकती है। इन्हें घर से बाहर निकलने से परहेज करना चाहिए। बाजार, पार्क या अन्य भीड़ वाली जगह पर जाने से बचे। तबीयत खराब होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाकर इलाज कराएं।

एक दिन में 25 मिले पॉजिटिव

शनिवार को 728 सैंपलों की जांच में सिर्फ 24 पॉजिटिव आए थे। जबकि रविवार को 525 संदिग्ध मरीजों की जांच में ही 25 मरीज पॉजिटिव मिले। एक ही दिन में मरीजों का पॉजिटिव आने का प्रतिशत बढ़ गया। शनिवार को 3.7 प्रतिशत मरीज पॉजिटिव आए, वहीं रविवार को 4.7 प्रतिशत मरीज पॉजिटिव पाए गए। रविवार को प्राप्त रिपोर्ट में मिले पॉजिटिव मरीजों में ग्रामीण क्षेत्र से भी अधिक संख्या में मरीज मिले हैं।

इस तरह करें ठंड से बचाव

- लंबी बाह वाले कपड़े पहनें।

- ऊनी कपड़े पहनने पर अधिक ध्यान दें।

- सिर तथा तलवों को ठंड से बचाएं।

- एसी वाले रूम में अधिक देर तक न बैठे।

- अधिक ठंडे पदार्थ खाने से बचें।

13 दिनों में इस तरह बढ़े सक्रिय मरीज

तिथि सक्रिय मरीज डिस्चार्ज

10 34 24

11 44 0

12 43 9

13 37 56

14 44 0

15 37 15

16 44 0

17 40 9

18 25 20

19 34 0

20 39 5

21 62 0

22 82 5

-------

13 दिनों में हर रोज इतने आए पॉजिटिव

तिथि जांच पॉजिटिव प्रतिशत

10 544 6 1.10

11 361 8 2.21

12 442 10 2.26

13 363 8 2.20

14 478 10 2.03

15 219 7 3.19

16 442 7 1.50

17 299 5 1.67

18 425 5 1.17

19 477 9 1.88

20 524 10 1.90

21 728 24 3.2

22 525 25 4.7

...............................................................

13 दिनों में इस तरह बढ़ी सैंपलिंग

तिथि सैंपल

10 398

11 455

12 435

13 274

14 293

15 329

16 354

17 309

18 372

19 540

20 701

21 701

22 664

...................................................

वायरल का अधिक खतरा

सर्दी के मौसम में वायरल फीवर का खतरा बढ़ जाता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम होती है। गंभीर बीमारियों वाले मरीजों की तरह ही सर्दी-खांसी व मौसमी बुखार के मरीजों को भी संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए सावधानी रखना जरूरी है।

डॉ. एमपी शर्मा, सीएमएचओ देवास

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस