पीथमपुर। पंचायत चुनाव की आचार संहिता के बीच पीथमपुर नगर पालिका में 29 मई को होने वाला मुख्यमंत्री कन्यादान सामूहिक विवाह का आयोजन निरस्त कर दिया गया है। ऐसे में यह विवाह समारोह शासन की योजना के बजाए निजी स्तर पर किया जाएगा। ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि 105 जोड़ों में से बड़ी संख्या में जोड़े ग्राम पंचायत के हैं। शहरी क्षेत्र में आचार संहिता लागू नहीं है। फिर भी ग्राम के जोड़ों के कारण सरकारी स्तर पर आयोजन नहीं किया जा रहा है।

गौरतलब है कि नगरपालिका अध्यक्ष कविता वैष्णव के कार्यकाल में दूसरी बार ऐसी नौबत आई। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह की पूरी तैयारी हो जाने के बाद अंतिम दिन विवाह कार्यक्रम पर संकट के बादल आ गए। पीथमपुर में 29 मई रविवार को पीथमपुर और धार विधानसभा क्षेत्र के 105 वर -वधुओं का विवाह संपन्ना होना है। इसकी समस्त तैयारी पूर्ण हो चुकी है। विवाह में दूल्हा -दुल्हन के लिए अग्निकुंड तैयार हो चुके हैं। सभी के लिए शासन की योजना के अतिरिक्त भाजपा नेता संजय वैष्णव ने अपने स्वयं के खर्च व व्यक्तिगत प्रयासों से पीथमपुर के उद्योगपतियों, जनप्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों , विभिन्ना समाज की मदद से एक-एक वधू के लिए घर की जरूरत का सामान देना तय किया। इसमें लगभग 2 लाख रुपये की सामग्री मिलेगी। ऐसे में यह तय किया गया है कि ये समारोह आगे नहीं टाला जाएगा बल्कि इसे निजी स्तर पर किया जाएगा। भाजपा नेता वैष्णव ने कहा कि सरकारी आयोजन निजी स्तर पर किया जा रहा है।

ये तैयारी हो चुकी है

ज्ञात हो कि विवाह समारोह के लिए पीथमपुर के संजय जलाशय रोड नूतन नगर में 32 हजार वर्ग फ़ीट के दो डोम बनाए गए हैं। इसमें एक में वर -वधू के फेरे का कार्यक्रम होगा जबकि दूसरे में रिसेप्शन होगा। इसमें अतिथिगण वर-वधू को आशीर्वाद देंगे। इसके अलावा भोजन के लिए अलग से व्यवस्था की गई। समारोह स्थल पर गर्मी व बारिश को देखते हुए अतिरिक्त व्यवस्था की गई है। समारोह में 15 हजार से अधिक लोगों के भोजन की व्यवस्था की गई है। विवाह समारोह के मुख्य व्यवस्थापक संजय वैष्णव, अमृत जैन, देवेंद्र पटेल, प्रकाश धाकड़, पिंटू व सुभाष जायसवाल सहित संजय वैष्णव मित्र मंडल के लगभग 100 से अधिक कार्यकर्ता दिन रात व्यवस्था में जुटे हैं। रविवार शाम 4 बजे आयोजन स्थल के नजदीक जयनगर स्थित सामुदायिक भवन से 3 ट्रालों में 105 दूल्हों के बरात की तैयारी की जा रही है। यह चल समारोह शाम साढ़े 5 बजे तक आयोजन स्थल पहुंचेंगे।

- आचार संहिता लगी हुई है। ऐसे में ग्राम पंचायत के जोड़ों को हम शासन की योजना के लाभ नहीं दे सकते हैं। अब सरकारी स्तर पर आयोजन नहीं होगा। ये आयोजन निजी स्तर पर किया जा रहा है। इसमें प्रशासन कानून व व्यवस्था बनाने का कार्य करेगा। -

रोशनी पाटीदार, एसडीएम, पीथमपुर अनुभाग

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close